WHO की गंभीर चेतावनी, कहा- यहां हो सकती हैं 7 लाख मौतें

जिनेवा: दुनियाभर में कोरोना (Covid 19) का असर कम जरूर हुआ है लेकिन अभी महामारी पूरी तरह खत्म नहीं हुई है. अब कोरोना महामारी को लेकर विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने एक नई चेतावनी दी है. संगठन ने कहा है कि पूर्वानुमानों के मुताबिक यूरोप (Europe) के 53 देशों में सर्दियों के बाद अगले बसंत तक कोरोना महामारी से सात लाख और लोगों की मौत हो सकती है. इसके बाद मौत के कुल मामले 20 लाख से ज्यादा हो सकते हैं.

बूस्टर डोज पर कही ये बात
WHO यूरोप का कार्यालय डेनमार्क की राजधानी कोपेनहेगन में है. उसने संक्रमण से सुरक्षा के उपायों में कमी और वैक्सीन से मामूली बीमारियां सामने आने के बढ़ते सबूतों का हवाला दिया है. साथ ही कहा कि कमजोर प्रतिरक्षा प्रणाली वाले लोगों, 60 साल से पार के लोगों और स्वास्थ्य कर्मियों समेत सबसे अधिक संवेदनशील आबादी को वैक्सीन की बूस्टर डोज (Booster Dose) देने में प्राथमिकता दी जानी चाहिए.

जिनेवा में डब्ल्यूएचओ के अंतरराष्ट्रीय मुख्यालय ने साल के अंत में बूस्टर डोज के इस्तेमाल पर रोक की बार-बार वकालत की है ताकि उन विकासशील देशों के लिए डोज उपलब्ध कराई जा सकें, जहां अमीर देशों की तुलना में कोरोना वैक्सीन (Covid Vaccine) की कमी रही है.

लोगों से की खास अपील
डब्ल्यूएचओ यूरोप ने लोगों से वैक्सीन लगवाने और उचित साफ-सफाई का ध्यान रखने का अनुरोध किया है. साथ ही कहा कि आपस में एक निश्चित दूरी बनाकर रखें ताकि वायरस को फैलने से रोका जा सके. संगठन के रीजनल डायरेक्टर डॉ क्लूजे ने एक बयान में कहा, ‘आज पूरे यूरोप और मध्य एशिया में कोरोना की स्थिति बहुत गंभीर है. हमारे सामने आने वाली सर्दियों की चुनौती है, लेकिन हमें उम्मीद नहीं छोड़नी चाहिए क्योंकि हम सब-सरकारें, स्वास्थ्य अधिकारी और आम लोग महामारी पर काबू पाने में निर्णायक कार्रवाई कर सकते हैं.’