WhatsApp से जुड़ा यह काम 15 मई तक नहीं किया, तो बंद हो जाएगा आपका अकाउंट


WhatsApp Privacy Policy Update: इस साल की शुरुआत से ही अपनी प्राइवेसी पॉलिसी को लेकर व्हाट्सऐप की छीछालेदर हो रही है. व्हाट्सऐप की नयी प्राइवेसी पॉलिसी पहले आठ फरवरी से लागू होने वाली थी, लेकिन इसी महीने 15 मई 2021 को प्राइवेसी पॉलिसी लागू हो रही है. विवाद के बाद व्हाट्सऐप ने प्राइवेसी पॉलिसी को तीन महीने के लिए टाल दिया था. प्राइवेसी पॉलिसी को लेकर व्हाट्सऐप अपने यूजर्स को लगातार नोटिफिकेशन दे रहा है, यानी व्हाट्सऐप की प्राइवेसी पॉलिसी को आपको 15 मई 2021 से पहले स्वीकार करना होगा.

इंस्टैंट मैसेजिंग ऐप व्हाट्सऐप अपनी प्राइवेसी पॉलिसी को लेकर एक बार फिर सुर्खियों में है. अब व्हाट्सऐप ने नयी पॉलिसी तैयार की है, जिसमें आपको 15 मई तक व्हाट्सऐप की नयी प्राइवेसी पॉलिसी को मंजूर करना होगा. कंपनी ने इससे जुड़ी नयी गाइडलाइंस तैयार कर ली हैं. पिछली बार हुए विवाद को देखते हुए कंपनी इस बार पूरी सावधानी बरत रही है. WhatsApp की ओर से नयी प्राइवेसी पॉलिसी की मंजूरी को लेकर डेडलाइन भी तय कर दी गई है. आपको 15 मई तक नयी प्राइवेसी पॉलिसी को मंजूर करना होगा, नहीं तो आपका WhatsApp अकाउंट बंद हो सकता है.

नयी प्राइवेसी पॉलिसी को मंजूर नहीं किया, तो क्या होगा?
अब सवाल यह उठता है कि अगर आप व्हाट्सऐप की नयी प्राइवेसी पॉलिसी को स्वीकार नहीं करते हैं तो क्या होगा? यूजर्स 15 मई के बाद भी प्राइवेसी पॉलिसी को एक्सेप्ट कर पाएंगे. इसके लिए कंपनी की ओर से इनऐक्टिव यूजर्स पॉलिसी लागू होगी. अगर आपने पॉलिसी एक्सेप्ट नहीं की, तो कंपनी आपकी पूरी मैसेज हिस्ट्री को परमानेंट डिलीट कर देगी. इसका मतलब आपके मैसेज डिलीट होने के बाद वापस नहीं आ पाएंगे. इसके अलावा, अगर आपने WhatsApp की नयी प्राइवेसी पॉलिसी को मंजूर नहीं किया, तो आपको एक तय समय के बाद सभी WhatsApp ग्रुप से हटा दिया जाएगा.

WhatsApp पर पाएं Corona Vaccine सेंटर की जानकारी, बड़ा आसान है तरीका
WhatsApp पर आपका डेटा कितना सुरक्षित?

WhatsApp की नयी पॉलिसी को लेकर लोगों के मन में डर है. लोगों को इस बात का खतरा है कि कहीं व्हाट्सऐप पर शेयर किया गया हमारा डेटा लीक न हो जाए या उसका कोई गलत इस्तेमाल न कर ले. कंपनी ने इस बारे में यूजर्स को पूरी तरह संतुष्ट करने की कोशिश की है. व्हाट्सऐप का कहना है कि यूजर्स की निजता के अधिकार का पूरा ध्यान रखा गया है. बिना यूजर की सहमति के उसका डेटा किसी को भी नहीं दिया जाएगा. यही नहीं, लोगों की पर्सनल चैट एनक्रिप्टेडफॉर्म में ही रहेगी. इसका मतलब आपकी चैट को कोई नहीं देख पायेगा, यहां तक कि फेसबुक भी नहीं.

नयी पॉलिसी में किस बात पर यूजर्स को थी आपत्ति?
आपको बताते चलें कि इसी साल जनवरी में WhatsApp की नयी प्राइवेसी पॉलिसी को लेकर काफी हंगामा हुआ था. इस पॉलिसी के मुताबिक, यूजर का डेटा जैसे मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी, लोकेशन, फोन का मॉडल जैसी जानकारी व्हाट्सऐप अपनी पैरेंट कंपनी Facebook के अलावा इस ग्रुप के दूसरे प्लैटफॉर्म्स, जैसे- Messenger, Instagram और थर्ड पार्टी के साथ शेयर करने की बात कर रही थी. इसपर काफी विवाद हुआ, तो कंपनी ने इसे लेकर सफाई दी कि यह अपडेट असल में बिजनेस अकाउंट्स से जुड़ा है. अब कंपनी ने अपने यूजर्स के लिए प्राइवेसी पॉलिसी में कुछ बदलाव के साथ इसे फिर से पेश किया है

Special for You