5 बहनों ने भाई की डेडबॉडी को बांधी राखी, दुखभरी दास्तां सुन निकल आएंगे आंसू

नलगोंडा: तेलगांना के नलगोंडा से एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है. यहां 5 बहनों ने रक्षा बंधन के दिन अपने मरे हुए भाई को राखी बांधी. ये मामला अब सोशल मीडिया पर चर्चा का विषय बना हुआ है.

रक्षा बंधन पर हो गई भाई की मौत
तेलंगाना टुडे में छपी एक रिपोर्ट के अनुसार, बीते शनिवार की शाम को चिंतापल्ली लक्ष्मैया की 5 बहनें उनके घर रक्षा बंधन का त्योहार मनाने आई थीं. अगले दिन रविवार को रक्षा बंधन की सुबह चिंतापल्ली की तबियत अचानक खराब हो गई और वो जमीन पर गिर पड़े. इसके बाद उनकी मौत हो गई. चिंतापल्ली की उम्र 59 साल थी.

चिंतापल्ली की मौत की खबर सुनते ही उनके घर में कोहराम मच गया. घर के सभी सदस्य रोने लगे. सब मिलकर रक्षा बंधन का त्योहार मनाने वाले थे लेकिन खुशी के दिन उनपर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा.

5 बहनों ने मिलकर लिया ये फैसला

घर में चिंतापल्ली के अंतिम संस्कार की तैयारियां की जाने लगीं. फिर चिंतापल्ली की बहनों ने कहा कि वो हर साल अपने भाई को राखी बांधती थीं. वो इस बार भी भाई का हाथ सूना नहीं रखेंगी. इसके बाद चिंतापल्ली की पांच बहनों इरा लक्ष्म्मा, नामा पद्मा, अलापुरी वेंकटम्मा, कादिरी कोटम्मा और जक्की कविता ने मृत चिंतापल्ली के हाथ में राखी बांधी.

राखी बांधने के बाद हुआ अंतिम संस्कार
चिंतापल्ली को राखी बांधने के बाद उनका अंतिम संस्कार किया गया. भाई चिंतापल्ली को विदा करते हुए उनकी पांचों बहनों के आंसू रुक नहीं रहे थे. वे सभी अपने भाई से बहुत प्यार करती थीं. चिंतापल्ली की बहन पद्मा ने बताया कि शादी के बाद एक भी ऐसा रक्षा बंधन नहीं हुआ जब उन्होंने अपने भाई को राखी नहीं बांधी हो.