3 बीघा जमीन बेचकर ले आया बहू, पता चली सच्चाई तोड़ गए होश

भरतपुर जिले में शादी के 9 दिन बाद ही लूटेरी दुल्हन गहने और रुपए लेकर भाग गई। कुछ दिन बाद में महिला ने पुलिस में यह शिकायत दे दी कि उससे जबरदस्ती ले आए थे। परिजनों ने वरमाला के फोटो व वीडियो दिखाकर पीछा छुड़ाया। इसके बाद दलाल ने पीड़ित को ही लूट में फंसाने की कोशिश की, ताकि वह उसे दी गई रकम वापस मांगने का दबाव नहीं बना सके। जब लूट का मामला दर्ज हो गया तो रविवार को पुलिस जांच में यह पूरी कहानी सामने आ गई।

भरपुर निवासी किसान भोला गुर्जर बहू लाने के चक्कर में दलालों के झांसे में आ गया। शादी के लिए भोला से खेरली के लाठकी गांव निवासी दलाल राम सिंह गुर्जर व उसके दो साथियों ने 6 लाख रुपए लिए। इसके अलावा भोला ने अपने बेटे की शादी पर 2 लाख रुपए खर्च किए। बहू को सोने-चांदी के करीब 1 लाख के आभूषण भी पहनाए। इसके लिए भोला ने अपनी 3 बीघा जमीन साहूकार के पास गिरवी रख दी।17 जुलाई को अलवर में शादी हो गई। वर-माला पहनाने से लेकर गांव में सब रस्म अदा की गई। 27 जुलाई को बहू गहने लेकर भाग गई।

पुलिस जांच में सामने आया कि दलाल नीमकाथाना के पाटन गांव से महिला को लेकर आया गया था। उसे बहू बनने के लिए 60 हजार रुपए दिए गए। फिर भोला गुर्जर से शादी करवा दी। महिला शादी के 9 दिन बाद ही भाग गई। दलाल से रुपए मांगे तो उसने लूट के मामले में फंसा दिया। पुलिस में जांच की तो पूरे मामले का खुलासा हुआ।

गांव में मंदिर में पंडित से आशीर्वाद लिया।
गांव में मंदिर में पंडित से आशीर्वाद लिया।
दलाल राम सिंह ने रची लूट की कहानी
अलवर के खेरली थाने में 8 सितंबर को राम सिंह गुर्जर ने सूचना दी कि पेट्राल पंप के पास उसके साथ लूट हो गई। उसकी बाइक को दो लोगों ने रोका। मारपीट कर दो हजार रुपए लूट ले गए। राम सिंह गुर्जर ने लूट में भोला के शामिल होने का आरोप लगाया। इसके बाद पुलिस ने उस दिन भोला की लोकेशन पता की तो वह नगर में था। पुलिस को परिवादी पर शक हुआ। इसके बाद गहनता से जांच की। तब पता लगा कि भोला और राम सिंह गुर्जर का रुपयों के लेन देन का विवाद है।

रीति रिवाज के साथ हुई थी शादी।
रीति रिवाज के साथ हुई थी शादी।
बहू के भाग जाने पर भोला ने पैसे मांगे
बहू के भाग जाने पर भोला ने दलाल राम सिंह से 6 लाख रुपए वापस मांगे। राम सिंह ने 2 लाख रुपए तो वापस कर दिए, लेकिन 4 लाख नहीं दिए। इसके बाद राम सिंह ने भोला को लूट में फंसा कर 4 लाख रुपए रफा-दफा करने की साजिश रच डाली। इसके बाद पुलिस केस हो गया। खेरली थानाधिकारी प्रमोद कुमार ने जांच की तो पूरा मामला सामने आया।

3 बीघा जमीन, पूरी गिरवी रख दी
भोला ने शादी के लिए दलालों को 6 लाख रुपए देने के लिए अपनी पूरी 3 बीघा जमीन साहूकार के पास गिरवी रख दी। 2 लाख रुपए शादी में खर्च कर दिए। एक लाख रुपए के गहने बहू लेकर फरार हो गई। दलालों ने भी पैसा वापस नहीं लौटाया। अब भोला को जमीन का संकट सता रहा है। अगर पैसे नहीं चुकाए तो भोला के हाथ से जमीन भी चली जाएगी।

बड़े नेटवर्क का हो सकता है खुलासा
पुलिस जांच हुई तो शादी कराने के नाम पर दलालों के बड़े नेटवर्क का खुलासा हो सकता है। ग्रामीणों ने बताया कि राम सिंह ने कई अन्य जगहों पर भी शादी कराने के नाम पर दलाली की है। ये दूर-दराज से गलत काम करने वाली महिलाओं को बहू बनाकर लाते हैं। ये महिलाएं शादी के कुछ दिन बाद फरार हो जाती है और जाते समय पुलिस में दुष्कर्म की शिकायत दे जाती है। ताकि उस पर कोई दबाव नहीं बने। इस तरह के गिरोह पर सख्ती नहीं हुई तो शादी कराने में नाम पर और भी लोग ठगे जा सकते हैं।