10 साल से थी ‘लापता’, पड़ोस में रहने वाले प्रेमी के घर मिली; लड़के के घर वालों को भी नहीं लगी भनक

पलक्कड़। केरल के एक गांव से 10 साल पहले अपने घर से लापता हुई लड़की अपने प्रेमी के साथ मिली है और इतने साल से वह अपने प्रेमी के घर एक कमरे में रह रही थी. हैरानी की बात यह है कि इस बारे में दोनों के परिजनों को भनक भी नहीं लगी जबकि लड़की का घर भी प्रेमी के घर के पास ही था और लड़के के घर वालों को भी इसकी खबर नहीं हुई.

2010 में हुई थी लापता
पुलिस ने बताया कि लड़की फरवरी, 2010 में नेमारा पुलिस थाना क्षेत्र के अयीरूर से लापता हुई थी और उस समय वह सिर्फ 18 साल की थी. पुलिस ने मामला दर्ज करने के बाद जांच की. पुलिस ने बताया कि लड़की का घर प्रेमी के घर के नजदीक ही था और वह इस साल मार्च तक उस लड़के के साथ ही रह रही थी. पुलिस के अनुसार कराक्टुपारम्ब गांव में एक कमरे में रह रही इस लड़की की देखभाल उसके प्रेमी ने की.

रात में खिड़की से बाहर निकल जाती थी

लड़की रात में कमरे की खिड़की से बाहर निकल जाती थी, जो कि दिन में बंद रहती था. कमरे से कोई टॉयलेट भी नहीं जुड़ा था. उसका प्रेमी उसे खाना पहुंचाने के साथ अन्य जरूरी चीजें दे जाता था और बाहर से कमरे को बंद कर देता था. प्रेमी तीन महीने पहले लापता हो गया था, जिसकी जांच के दौरान इस कहानी का पता चला है. वह भी अपने प्रेमी के साथ ही चली गई थी.

इस तरह खुला राज
मंगलवार को व्यक्ति के भाई ने दोनों का पता लगाया. ये दोनों नेमारा के निकट स्थित विथानासेरी गांव में एक किराए के घर में रह रहे थे. पुलिस ने बताया कि इन दोनों को एक अदालत के सामने पेश किया गया. लड़की को उसके प्रेमी के साथ रहने की इजाजत दे दी गई क्योंकि वह बालिग है. उसके रिश्तेदारों ने भी इसका विरोध नहीं किया.

दोनों को साथ रहने की मिली परमीशन

पुलिस ने बताया कि पिछले 10 साल से वह कराक्टुपारम्ब में व्यक्ति के घर में रह रही थी और वह इतने वर्षों से अपनी प्रेमिका को छुपाकर रखने में सफल रहा था. यहां तक कि उसके अभिभावक और उसकी बहन को भी इसका पता नहीं चल पाया था. हालांकि इस बारे में वरिष्ठ अधिकारी का कहना है कि ये सारी जानकारी रिश्तेदारों से जुटाई गई है और इसकी जांच होगी.

Special for You