हिमाचल में मौसम का कहर जारी, लैंडस्लाइड से पहाड़ो में आई दरार, फंसे सैकड़ों लोग

शिमला: हिमाचल प्रदेश के सिरमौर में भूस्खलन के बाद सड़कें ब्लॉक हो गई हैं। बरवास के पास नेशनल हाई-वे 707 पर ट्रैफिक रोक दिया गया है। यहां बारिश के बाद भूस्खलन की वजह से पहाड़ में दरार पड़ गई और चट्‌टानें टूटकर गिरने लगीं।

पहाड़ी खिसकने की वजह से रास्ता भी टूट गया। सैकड़ों की संख्या में लोग रास्ते में फंस गए और कई घंटे से लंबा जाम लगा हुआ है। पोंटा साहब को कनेक्ट करने वाले NH-707 को उत्तराखंड वाले भी यूज करते हैं। भूस्खलन की वजह से कई लोगों ने भागकर अपनी जान बचाई।


1 अगस्त तक भारी बारिश की संभावना
IMD के मुताबिक, 1 अगस्त तक देश के पूर्वी, पश्चिमी और मध्य भागों में तेज बारिश होने की संभावना है। इसके अलावा शुक्रवार को बिहार, राजस्थान, उत्तराखंड, छत्तीसगढ़ और झारखंड समेत कई इलाकों में भारी बारिश का रेड अलर्ट जारी किया गया है। जम्मू-कश्मीर में भी आज बारिश की संभावना है।

MP के 15 जिलों में ऑरेंज अलर्ट
IMD ने अगले 24 घंटे में मध्य प्रदेश के 15 जिलों में भारी बारिश और आकाशीय बिजली गिरने की आशंका जताई है। इन जिलों में ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। इनमें श्योपुर, मुरैना, भिंड, टीकमगढ़, छतरपुर, सागर, दतिया, शिवपुरी, अनूपपुर, डिंडोरी, नीमच, मंदसौर, रतलाम, बालाघाट और मंडला शामिल हैं। इन जिलों में अगले 24 घंटों में कहीं-कहीं पर भारी बारिश का ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है।

31 और 1 अगस्त को उत्तराखंड में भी यलो अलर्ट
IMD ने उत्तराखंड में भी 2 अगस्त तक बारिश की संभावना जताई है। शुक्रवार को उत्तरकाशी, देहरादून, टिहरी, पौड़ी, नैनीताल, बागेश्वर व पिथौरागढ़ जिले में भारी बारिश की संभावना है। इसे देखते हुए ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। शनिवार और रविवार के लिए देहरादून, नैनीताल, बागेश्वर और पिथौरागढ़ में यलो अलर्ट जारी किया गया है।

राजस्थान में 3 जिलों में बारिश का रेड अलर्ट
राजस्थान के नागौर, सीकर और भरतपुर के लिए रेड अलर्ट जारी किया गया है। यहां आज भारी बारिश की संभावना है। इसके अलावा झुंझुनूं, जयपुर, टोंक, भीलवाड़ा, कोटा, झालावाड़, बारां और चूरू में भी तेज बारिश हो सकती है। IMD ने इन जिलों के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है।