हवस की भूखी पत्नी हो गई परेशान, पति को बांध आई रेलवे की पटरी पर, ओर…

बुलढाणा। महाराष्ट्र के बुलढाणा ज़िले के शेगांव शहर से कुछ क‍िलोमीटर की दूरी पर मुंबई-हावड़ा रेलमार्ग पर 47 वर्षीय रामधन नारायण दांदले की ट्रेन से कटी लाश 19 अप्रैल को मिली थी. इस लाश के हाथ और पैर बंधे हुए थे.

पुलिस ने घटनास्थल पर डॉग स्कॉयड को बुलाया. डॉग स्क्वायड की जांच ने पत्नी की ओर इशारा किया. इसके आधार पर सबूत इक्ट्ठा किया गया और फिर पुलिस ने मृतक की पत्नी को गिरफ्तार किया. पूछताछ में पत्नी ने बताया कि उसने और उसके प्रेमी ने मृतक को बेहोश कर रेलवे पटरी पर रख दि‍या था.

दोनों आरोपियों को न्यायलय में पेश किए जाने पर उन्हें 5 दिनों के लिए पुल‍िस र‍िमांड में भेजा गया है. आगे की जांच शेगांव रेलवे पुलिस कर रही है. मृतक नागझरी गांव का रहने वाला था और पंक्चर बनाने का काम करता था.

जिस दिन लाश मिली थी उस दिन मृतक की पत्नी ने पुलिस को बताया था कि उसका पति और बेटा घर के आंगन में बाहर सो रहे थे और वह बेटी के साथ घर में सो रही थी. सुबह उठने पर उसने देखा कि उसका पति खटिया पर नहीं थे. तलाश करने पर उसकी लाश नागझरी के गांव के पास मुंबई-हावड़ा रेलवे मार्ग पर कटी हुई परिस्थिति में मिली.

रेलवे पुल‍िस अध‍िकारी सागर गोडे ने बताया क‍ि जूली नाम की डॉगी की मदद से और वरिष्ठों के मार्गदर्शन से हमने फरियादी पत्नी को क्रॉस चेक किया. उसने अपना गुनाह कबूल करते हुए बताया कि उसने और उनके सहयोगी ने यह कृत्य किया है, हम आगे की जांच कर रहे हैं.

Special for You