हरियाणा के पहलवान ने बनाया विश्व रिकॉर्ड, शरीर पर हथौड़े मरवाकर, जीता स्टील मैन का खिताब

भिवानी: देश की रीढ़ को नशे के चंगुल से बचाने के उद्देश्य से भिवानी के पहलवान बिजेंद्र सिंह द्वारा पिछले लंबे समय से शक्ति प्रदर्शन किए जा रहे है। इसी के तहत सोमवार को पहलवान बिजेंद्र सिंह द्वारा शक्ति प्रदर्शन कर गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में नाम दर्ज करवाया गया। पहलवान बिजेंद्र सिंह को हथौडों के 300 वार सहने का टास्क मिला था। इस टास्क को पार करते हुए पहलवान ने सबसे अधिक 1550 हथौड़े खाकर रिकॉर्ड बनाया, जो कि विश्व भर में सबसे अधिक का रहा।

बता दें कि सोमवार को महम रोड़ स्थित सांस्कृतिक सदन में गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में नाम दर्ज करवाने के लिए नेहरू युवा केंद्र से संबंधित अखिल भारतीय युवा जनकल्याण संगठन के अध्यक्ष पहलवान बिजेंद्र सिंह ने बड़ा ही दर्दनाक शक्ति प्रदर्शन किया। इस दौरान पहलवान बिजेंद्र सिंह को अपने शरीर पर हथौड़ों के 300 वार सहने थे, जिसके बाद ही उनका नाम गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज होना था, लेकिन पहलवान बिजेंद्र सिंह ने अपने ही रिकॉर्ड को तोड़ते हुए 300 की जगह हथौड़ों के 1550 वार सहे, जिनके बाद उनका नाम गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में नाम दर्ज हुआ तथा उन्हें स्टील मैन के नाम के खिताब से भी नवाज गया।

इस मौके पर डीएसपी विरेंद्र सिंह ने कहा कि पहलवान बिजेंद्र सिंह ने पिछले काफी लंबे समय से एक अच्छा अभियान चलाया हुआ है, जिस अभियान का परिणाम उन्हें आज मिला हैं। उन्होंने कहा कि पहलवान बिजेंद्र सिंह ने बेहतरीन शक्ति प्रदर्शन का परिचय देते हुए जता दिया है कि नशे से दूर रहकर व्यक्ति कितना भी ताकतवर व साहसी बन सकता हैं। वहीं इस मौके पर पहलवान बिजेंद्र सिंह ने कहा कि उनके अभियान का एकमात्र उद्देश्य युवाओं को नशे से दूर रखना हैं। उन्होंने कहा कि वे पहले शक्ति प्रदर्शनों के माध्यम से युवाओं को नशे के खिलाफ जागरूक करते आ रहे है। उनकी इसी मेहनत को देखते हुए उनका नाम गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज किया गया हैं।