सुबह-सुबह: त्योहारों के बीच देश में तीसरी लहर ने मचाया तांडव, लॉकडाउन का ऐलान

नई दिल्ली: केरल में शनिवार को कोरोना संक्रमण के 31 हजार से ज्यादा मामले दर्ज किए गए और एक दिन में कोरोना संक्रमण की वजह से 153 लोगों की जान चली गई. राज्य में कोरोना की वजह से बिगड़ती इस स्थिति को देखते हुए केरल सरकार ने सोमवार से पूरे राज्य में नाइट कर्फ्यू लगाने का निर्णय लिया है और शहरी क्षेत्रों, पंचायतों, वार्डों में जहां WIPR (साप्ताहिक संक्रमण जनसंख्या अनुपात) 7 से ऊपर है, वहां विशेष सघन कड़े लॉकडाउन लागू किए जाएंगे.केरल सरकार ने इसके लिए सख्त COVID दिशानिर्देश जारी किए हैं. आज केरल में संडे लॉकडाउन की पाबंदियां जारी की गई हैं. सुबह से ही सड़कों पर लोगों की संख्या काफी कम दिखाई दे रही है. जिन्हें ज्यादा जरूरी काम है वही लोग घर से बाहर निकल रहे हैं.

मुख्यमंत्री पिनरई विजयन ने बताया कि यहां आज 1,67,497 सैंपलों की जांच की गई थी, जिनमें से 31,265 सैंपलों की रिपोर्ट पाजिटिव आई है। वहीं, एक दिन में 153 लोगों की कोरोना के कारण मृत्यु हो गई है. मुख्यमंत्री ने कहा कि केरल में इन हालातों को देखते हुए रात्रि कर्फ्यू का फैसला किया गया है. इसके तहत पूरे राज्य में रात 10 बजे से सुबह छह बजे तक रात्रि कर्फ्यू लगा रहेगा और इस दौरान लोगों को जरूरी काम के अलावा घरों से बाहर निकलने की इजाजत नहीं होगी.

देश में कल कोरोना के 46 हजार से ज्यादा नए मरीज मिले
देश में शनिवार को नए कोरोना मरीजों की संख्या 46 हजार से ऊपर दर्ज की गई है.वहीं, इससे एक दिन पहले देशभर में 44 हजार के पार मामले सामने आए थे. इससे पता चलता है कि देश में फिर से कोरोना अपने पैर पसार रहा है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक, देश में पिछले 24 घंटों में कोरोना वायरस के 46,759 नए मामले दर्ज किए गए हैं और इस दौरान 31,374 लोग कोरोना से ठीक भी हुए हैं. इसके अलावा शनिवार को मौतों का आंकड़ा 509 तक पहुंच गया जबकि इससे एक दिन पहले 24 घंटों में कुल 498 लोगों की मौत हुई थी.