सुबह सुबह कुदरत के कहर से कांप उठा देश, 136 की मौत, लगातार मिल रही लाशें-यहां देंखे

मुम्बई। महाराष्ट्र में पिछले कुछ दिनों से हो रही मूसलधार बारिश ने राज्य के कई हिस्सों में आफत मचा कर रखा हुआ है। अब खबर है कि बारिश से संबंधित घटनाओं में बीते गुरुवार शाम से अब तक 136 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि कई अभी भी लापता हैं। सेनाओं की मदद से युद्धस्तर पर राहत व बचाव कार्य किया जा रहा है। महाराष्ट्र आपदा प्रबंधन विभाग का कहना है कि ये सभी लोग बारिश, बाढ़ या फिर लैंडस्लाइड की चपेट में आने की वजह से मारे गए हैं।

बता दें कि महाराष्ट्र में लगातार हो रही बारिश के चलते हालात लगातार बदतर होते जा रहे हैं। वहीं, मौसम विभाग की ओर से आज भी महाराष्ट्र के पश्चिमी हिस्से में भारी बारिश होने की संभावना जताई गई है। साथ ही IMD की ओर से राज्य के 6 जिलों रायगढ़, रत्नागिरी, सिंधु गुर्ग, पुणे, सतारा और कोल्हापुर जिलों में बारिश का रेड अलर्ट जारी कियाय गया है।

इन राज्यों के लिए भी जारी की गई चेतावनी
केवल इतना ही नहीं विभाग ने महाराष्ट्र के अलावा मध्य प्रदेश, ओडिशा, तेलंगाना, कर्नाटक के कई हिस्सों में भी भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। बताते चलें कि कर्नाटक के कई हिस्सों में भी सड़कों पर लबालब पानी भरा हुआ है, जिसकी तस्वीरें सोशल मीडिया पर सामने आई हैं। अब मौसम विभाग की चेतावनी के बाद लोगों की चिंता बढ़ गई है। महाराष्ट्र की बात करें तो बारिश के चलते 54 गांव पूरी तरह तबाह हो गए हैं। जबकि 821 आंशिक रूप से प्रभावित हुए हैं।

कोल्हापुर से करीब 40 हजार से ज्यादा लोगों को दूसरी जगह शिफ्ट किया गया है। वहीं, पुणे की बात करें तो यहां पर बीते दो दिनों में लगभग 84,452 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है। बाढ़ प्रभावित इलाकों में एनडीआरएफ और सेना की टीम युद्धस्तर पर राहत व बचाव कार्य कर रही हैं।

रायगढ़ में भूस्खलन की घटनाओं में 44 की मौत

गौरतलब है कि कल महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई से सटे रायगढ़ जिले (Raigad) में भूस्खलन (Landslide) की दो अलग अलग घटनाओं करीब 44 लोगों की मौत हो चुकी है। इसके बारे में जानकारी देते हुए जिला कलेक्टर निधि चौधरी ने कहा कि रायगढ़ में भूस्खलन की दो घटनाओं में कुल 44 लोग मारे गए। 25 से ज्यादा लोगों के अभी भी मलबे में दबे होने की बात जिला कलेक्टर ने कही है। इसी तरह रत्नागिरी जिले में हुए भूस्खलन की घटना 10 लोगों के मलबे में फंसे होने की आशंका जताई जा रही है।