सुबह सुबहः किसानों का भारत बंद शुरु, हाइवे पर खडे किये ट्रक, सडकों पर उतरे किसानों के टोले, जानें कहां कैसे हालात-देंखे वीडियो और तस्वीरें

नई दिल्ली। केंद्र के तीन कृषि कानूनों के विरोध में सोमवार को बुलाया किसानों का भारत बंद शुरू हो गया है। इस दौरान किसान अलग-अलग हाइवे पर चक्का जाम करेंगे और साथ ही रेलवे लाइनों को भी अवरुद्ध करेंगे। दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने प्रदर्शन को ध्यान में रखते हुए गाजीपुर बॉर्डर पर वाहनों के आने-जाने पर रोक लगा दी है तो वहीं किसानों ने पंजाब-हरियाणा के बीच शंभु बॉर्डर को जाम कर दिया है। किसान सुबह छह बजे से शाम चार बजे तक चक्का जाम रखेंगे और विरोध प्रदर्शन करेंगे। किसानों के भारत बंद को कांग्रेस, लेफ्ट पार्टियां, आरजेडी, बीएसपी और एसपी सहित देश की लगभग हर विपक्षी पार्टी ने समर्थन देने का ऐलान पहले ही कर दिया है।

Bharat Band Live Updates:

– भारत बंद के मद्देनजर दिल्ली-अमृतसर नेशनल हाइवे को किसानों ने किया जाम।

– दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने प्रदर्शन के मद्देनजर गाजीपुर सीमा को बंद किया।

– किसानों ने शंभु बॉर्डर पर लगाया जाम।

किसानों ने भारत बंद के दौरान दिल्ली, यूपी और हरियाणा में मुख्य तौर पर अपना प्रदर्शन तेज़ किया है. दिल्ली के गाजीपुर बॉर्डर, शंभू बॉर्डर को किसानों ने जाम कर दिया है. जबकि दिल्ली-अमृतसर, दिल्ली-अंबाला समेत अन्य कई रास्तों पर भी किसानों ने जाम लगाया है.

हरियाणा के कुरुक्षेत्र में किसानों का प्रदर्शन

किसान संगठनों द्वारा बुलाया भारत बंद शुरू हो गया है. गाजीपुर बॉर्डर पर NH-9, NH-24 को किसानों ने जाम कर दिया है. किसान संगठन से जुड़े नेता यहां पर जम गए हैं. गाजीपुर बॉर्डर के अलावा किसानों ने शंभू बॉर्डर भी जाम कर दिया है.

किसानों ने 27 सितंबर के भारत बंद की पूरी तैयारी कर ली है। इस बीच केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने एक बार फिर कहा कि मैं किसानों से आग्रह करता हूं कि वे आंदोलन छोड़कर वार्ता का रास्ता अपनाएं। तोमर ने रविवार को कहा कि सरकार किसानों की ओर से बताई गई आपत्ति पर विचार करने के लिए तैयार है। इससे पहले भी कई बार बात हो चुकी है। इसके बाद भी उन्हें लगता है कि कोई बात बची है तो सरकार उस पर जरूर बात करेगी।

ये विपक्षी पार्टियां दे रहीं भारत बंद को समर्थन
कांग्रेस और आरजेडी के अलावा आम आदमी पार्टी, मायावती की बहुजन समाज पार्टी, समाजवादी पार्टी और लेफ्ट पार्टियों ने भी भारत बंद का साथ देने का ऐलान किया है। यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने ट्वीट किया, ‘भाजपा सरकार के काले कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलित किसानों के द्वारा कल बुलाए गए भारत बंद का समाजवादी पार्टी पूर्ण समर्थन करती है। किसान विरोधी काले कानूनों को वापस ले सरकार।’

बैंक यूनियन भी आए साथ
अखिल भारतीय बैंक अधिकारी परिसंघ (एआईबीओसी) ने भी भारत बंद को अपना समर्थन देने की घोषणा की है। एआईबीओसी ने सरकार से संयुक्त किसान मोर्चा की मांगों पर उसके के साथ फिर से बातचीत शुरू करने और तीन विवादित कृषि कानूनों को रद्द करने का अनुरोध किया।