शामली में रेप पीड़िता के अपहरण की कोशिश, विरोध पर युवक की हत्या, मचा कोहराम

शामली। शामली के कैराना कोतवाली क्षेत्र में भूरा गांव में बलात्कार के आरोपी रेप पीड़िता का अपहरण करने की कोशिश कर रहे थे। चीखपुकार सुन बगल के खेत में काम कर रहे युवक ने जब विरोध किया तो आरोपियों ने उसे गोली मार दी। घटना सुबह 8 बजे के आसपास की है। सुबह हुए इस जघन्य हत्या के बाद पुलिस बल मौके पर पहुंच गया है। जबकि आरोपी फरार हो गए हैं।

भूरा गांव की दो लड़कियां सुबह सुबह गांव के बाहर बने मंदिर में पूजा करने जा रही थी। मंदिर गांव के बाहर बना हुआ है। सुबह सुबह दो युवक शुभम और सन्नी अचानक आये और लड़कियों को जबरदस्ती गाड़ी में बिठाने का प्रयास करने लगे। जिसके बाद हल्ला मच गया। अजय थोड़ी दूर पर अपने खेत में काम कर रहा था। वह दौड़ कर वहां पहुंचा और उसने आरोपियों को ऐसा न करने को कहा। यही नहीं उसने लड़कियों को छुड़ाने की भी कोशिश की। लेकिन आरोपियों के ऊपर जूनून सवार था।

अजय भी लगातार आरोपियों का विरोध कर रहा था। वह प्रयास में था कि लड़कियों का अपहरण न होने पाए। आरोपी जब अजय से पार नहीं पाए तो उन्होंने उसे गोली मार दी। जिससे मौके पर ही अजय की मौत हो गयी। हालांकि, लोग इकठ्ठा होने लगे तो आरोपी लड़कियों को छोड़ फरार हो गए।

गांव वालों के मुताबिक लड़कियों में से एक का इन दोनों आरोपियों ने 2 साल पहले रेप किया था। गांव वालों के मुताबिक लड़कियों में से एक का इन दोनों आरोपियों ने 2 साल पहले रेप किया था। आरोपी और पीड़िता एक ही गांव के रहने वाले

वहीं अपहरणकर्ता और पीड़िता एक ही गांव के रहने वाले हैं। गांव वालों के मुताबिक लड़कियों में से एक का इन दोनों आरोपियों ने 2 साल पहले रेप किया था। जिसका मामला कोर्ट में विचाराधीन है। कोर्ट से मामला वापस लेने का दबाव बनाने के लिए आरोपियों ने लड़कियों का अपहरण का प्रयास किया। हालांकि, अजय की वजह से दोनों लड़कियों का अपहरण नहीं कर सके।

एएसपी ओपी सिंह ने बताया कि अजय रेप पड़ता के मामले में गवाह भी था। इस एंगल से भी हत्या देखी जा रही है। गांव वालों के मुताबिक अजय पीड़िता को बचा रहा था। जिसके बाद आरोपियों ने उसे गोली मार दी। एएसपी ओपी सिंह ने बताया कि विवेचना चल रही है। पुलिस आरोपियों को सजा दिलाएगी।