शादी के 6 महीने में ही दूर हो गया प्यार का बुखार, खुलासा हुआ तो सहम गये लोग

मुरादाबाद। मझोला थाना इलाके के गांगन वाली मैनाठेर गांव में सोमवार देर रात गला दबाकर मौत के घाट उतारी गई मंजू और फर्म कर्मी जितेंद्र के बीच शादी से पहले प्रेम संबंध थे। जितेंद्र ने अपने एक रिश्तेदार के जरिये रिश्ते का प्रस्ताव मंजू के घर भिजवाया था। दोनों परिवार रिश्ते के लिए तैयार हो गए और बाद में अरेंज मैरिज की गई। लेकिन छह माह बाद ही दोनों के संबंध खराब हो गए।

पुलिस छानबीन में सामने आया है कि दोनों एक दूसरे पर शक करने लगे थे। छोटी-छोटी बातों में दोनों के बीच विवाद होने लगा था। जिस कारण मंजू अपने मायके चली जाती थी। भैयादूज वाले दिन मंजू मायके से ससुराल आई थी। गांगन वाली मैनाठेर निवासी जितेंद्र उर्फ नन्हें की शादी दो साल पहले मंजू के साथ हुई थी।

छह माह तक दोनों के बीच अच्छे संबंध रहे। मंजू के भाई ने आरोप लगाया कि छह माह बाद मंजू ने घर आकर शिकायत की थी। उसने बताया था कि जितेंद्र के एक महिला से संबंध हैं। रात भर जितेंद्र गायब रहता है। इसका विरोध करने पर जितेंद्र उसके साथ मारपीट भी करता था।

विवाद खत्म न होने पर मंजू अपने मायके चली गई थी। मंजू के भाई ने बताया कि जितेंद्र ने वादा किया था कि वह किसी अन्य महिला से कोई संबंध नहीं रखेगा। इसके बाद मंजू जितेंद्र के साथ मायके से ससुराल आ गई थी।

आपको बता दें कि मुरादाबाद के मझोला थानाक्षेत्र के गांगन वाली मैनाठेर गांव में सोमवार देर रात ढाई बजे फर्म कर्मी की पत्नी की गला दबाकर हत्या कर दी। डकैती के लिए घर में घुसे पांच बदमाशों के विरोध करने पर गला दबाकर हत्या का आरोप पति की ओर से लगाया गया। लेकिन छानबीन में मामला कुछ और ही निकला। मंगलवार शाम करीब साढ़े आठ बजे मृतक महिला के पिता की तहरीर के आधार पर पति, उसके भाई और भाभी पर दहेज के लिए हत्या करने का मुकदमा दर्ज कर लिया है।

Special for You