लखीमपुर कांडः आशीष मिश्रा से साढ़े छह घंटे पूछताछ, अंदर से आई ये बडी खबर

लखीमपुर: लखीमपुर खीरी हिंसा केस का मुख्य आरोपी आशीष मिश्रा क्राइम ब्रांच के सामने पेश हो गया. जिससे मजिस्ट्रेट के सामने एसआईटी की टीम करीब साढ़े छह घंटे से पूछताछ कर रही है. एसआईटी आरोपी आशीष का मेडिकल करवाकर उसे कोर्ट में पेश करने की तैयारी में है.

सूत्रों के मुताबिक आशीष ने 10 लोगों के बयान का हलफनामा भी पेश किया, जो बताते हैं कि वो काफिले के साथ नहीं बल्कि दंगल मैदान में था. सूत्रों के मुताबिक कुछ दस्तावेजों को लेकर जांच अधिकारी संतुष्ट नहीं थे, उसको जस्टिफाई करने के लिए आशीष मिश्र ने अपने बचाव में कुछ वीडियोज भी दिखाए. SIT से पूछताछ के दौरान आशीष मिश्रा हिंसा वाले दिन दोपहर 2:36 से 3:30 तक कहां थे, इस सवाल का जवाब नहीं दे पाये. पूछताछ के दौरान आशीष मिश्र का वकील भी मौजूद हैं. साथ ही पूछताछ में डीआईजी उपेंद्र अग्रवाल और लखीमपुर के एसडीएम भी शामिल हैं.

बता दें, वह तय समय 11 बजे से करीब 20 मिनट पहले पहुंचा. उसे क्राइम ब्रांच के पीछे के दरवाजे से भीतर ले जाया गया. क्राइम ब्रांच की टीम आशीष मिश्र से पूछताछ कर रही है.

संयुक्त किसान मोर्चा का राष्ट्रव्यापी आंदोलन का ऐलान
लखीमपुर खीरी हिंसा को लेकर संयुक्त किसान मोर्चा के नेताओं ने शनिवार को दिल्ली में प्रेस कॉन्फ्रेंस की. पीसी में संयुक्त किसान मोर्चा की ओर से कहा गया कि लखीमपुर हत्याकांड के विरोध में एक राष्ट्रव्यापी आंदोलन चलाया जाएगा. आंदोलन के तहत 18 अक्टूबर को रेल रोको आंदोलन और 26 अक्टूबर को उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में किसान महापंचायत होगी.

लखीमपुर में प्रशासन ने फिर बंद की इंटरनेट सेवा
लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा के बाद 5 दिनों से लखीमपुर, सीतापुर और बहराइच में बंद रही इंटरनेट सेवा को प्रशासन ने शुक्रवार देर शाम बंद कर दिया. तिकुनिया में हिंसा और आगजनी में आठ लोगों की मौत के बाद प्रशासन ने एहतियातन इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी हैं, जिससे भड़काऊ बयानबाजी पर अंकुश लगाया जा सके.