रैना के संन्यास वाले बयान पर भड़के फैंस, बोले- ‘वफादारी और बेवकूफी में फर्क होता है’

नई दिल्ली: क्रिकेट की दुनिया में एमएस धोनी और सुरेश रैना की जोड़ी ‘शोले’ मूवी के ‘जय-वीरू’ की तरह है. इनकी दोस्ती की मिसालें दी जाती हैं, दोनो एक ही आईपीएल टीम के लिए खेलते हैं.

रैना ने दिया चौंकाने वाला बयान
एमएस धोनी और सुरेश रैना ने अगस्त 2020 में एक ही दिन इंटरनेशनल क्रिकेट को अलविदा कह दिया था. अब रैना ने एक बयान ने हर क्रिकेट फैंस को चौंका दिया है. उन्होंने कहा है कि अगर धोनी अगले साल आईपीएल नहीं खेलेंगे तो वो भी इस टी-20 लीग से रिटायर कर जाएंगे.

CSK से रैना की वफादारी
न्यूज 24 से बात करते हुए सुरेश रैना ने कहा, ‘मेरे पास 4-5 साल बाकी हैं. इस साल हम आईपीएल खेल रहे हैं और अगले साल से 2 और टीमें उतरेंगी. मैं जब तक खेलूंगा, सीएसके की तरफ से ही उतरुंगा. मुझे उम्मीद है कि इस साल हम अच्छा करेंगे. बता दें कि पिछले साल यूएई में हुए आईपएल में सीएसके का प्रदर्शन बेहद खराब था और टीम पहली बार प्लेऑफ में जगह बनाने में नाकाम रही थी.

‘धोनी नहीं खेलेंगे, तो मैं भी नहीं खेलूंगा’
रैना ने कहा, ‘अगर धौनी भाई आइपीएल का अगला सीजन नहीं खेलते हैं तो मैं भी नहीं खेलने वाला हूं. हम चेन्नई की टीम के लिए साल 2008 से ही खेलते आ रहे हैं. अगर हम इस साल खिताब को जीत लेते हैं तो मैं उनको अगले सीजन में भी खेलने के लिए मनाने की कोशिश करूंगा. मैं पूरी कोशिश करूंगा कि वह मान जाएं लेकिन अगर वह नहीं खेलते हैं तो फिर मुझे नहीं लगता है कि मैं आइपीएल में किसी और टीम की तरफ से खेलने उतरूंगा’.

रैना के बयान पर भड़के फैंस
सुरेश रैना के इस बयान पर जहां उनकी तारीफ हो रही है, वहीं कई फैंस को ये बात नागवार गुजरी है. महज 34 साल की उम्र में आईपीएल से रिटायरमेंट की बात करना काफी लोगों के गले नहीं उतर रहा. एक यूजर ने कहा, ‘वफादारी और बेवकूफी में फर्क होता है.’

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.