रिसर्च में हुआ खुलासा, पार्टनर को हग करने से होते हैं ये फायदे…

जब आप अपने दोस्‍तों यारों से मिलते हैं तो आपकी पहली प्रतिक्रिया उनसे गले मिलने (Hug) की होती है. यही नहीं, दफ्तर में भी हाथ‍ मिलाना आम बात है. क्‍या आप जानते हैं कि जब आप ऐसा करते हैं तो इसके कितने फायदे मिलते हैं? एक रिसर्च में यह पाया गया है कि स्‍नेह संबंध जैसे हाथ थामना, गले लगाना ब्‍लड प्रेशर के लेवल और हार्ट बीट को कम कर सकता है. जिससे हार्ट से जुड़ी कई समस्‍याओं का निदान संभव है. हम आप केवल अपने पार्टनर के साथ ही ऐसा नहीं कर सकते, बल्कि जिनको भी आप अपने दिल के करीब मानते हैं उनके साथ आप गले मिलते हैं. ऐसा करने पर ना केवल आप दोनों के बीच नजदीकियां बढ़ती हैं, साथ ही मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य में भी यह लाभदायक होता है. तो जानते हैं कि केवल स्किन के टच से ही किस तरह मानसिक सेहत को दुरुस्‍त कर सकते हैं.

मानसिक तनाव को करता है कम

अगर आप परेशान हैं, किसी समस्‍या से घिरे हुए हैं और कोई आपका करीबी आपको हग (Hug) करता है तो आप पाएंगे कि आप बेहतर फील कर रहे हैं. ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय में मनोवैज्ञानिक प्रोफेसर रॉबिन डनबर का कहना है कि गले मिलने से तनाव तो कम होता ही है, मानसिक सेहत में भी तेजी से सुधार होता है. इसलिए अगली बार जब भी किसी करीबी को परेशान देखें तो उससे गले मिलना ना भूलें.

खुशियां बढ़ती हैं

जब कोई आपसे गले मिलता है तो आपके शरीर में मौजूद ऑक्सीटोसिन हार्मोन का स्‍तर बढ़ जाता है. जिन लोगों का हमारे आस-पास होना हमें अच्छा लगता है. उन लोगों के साथ होने पर ऑक्सीटोसिन हॉर्मोन रिलीज होता है और हमारा मूड अच्छा रहता है. हगिंग शरीर के कोर्टिसोल स्तर को नियंत्रित करता है, जिससे आक्सीटोन नाम का हार्मोन रिलीज होने लगता है, जिसे लव हार्मोन भी कहते हैं. ये हमारे पूरे व्यवहार में सकारात्मक असर डालता है. बॉडी के ऑक्सीटोन रिलीज होने से हम ज्यादा कूल और रिलैक्स होने के साथ तनाव मुक्त हो जाते हैं.

हार्ट को बनाता है मजबूत

निश्चित तौर पर जब हम किसी अपने को गले लगाते हैं तो हमें मजबूती महसूस होती है. ऐसा करने पर हम खुद को अकेला नहीं पाते. दरअसल वैज्ञानिकों ने भी यह पाया है कि गले लगना हेल्‍दी हार्ट के लिए बहुत ही जरूरी है. यूनिवर्सिटी कॉलेज लंदन में मनोचिकित्सक तंत्रिका विज्ञान के प्रोफेसर डॉ. कतेरीना फ़ोटोपाउलू भी इस बात को मानते हैं. दरअसल जब आपका कोई हाथ थामता है या गले लगाता है तो अपने आप ही ब्‍लड प्रेशर के लेबल और हार्ट बीट में कमी आती है. यह ह्यूमन बॉडी के हेल्‍दी हार्ट के लिए बहुत जरूरी है. यही नहीं, ऐसा करते रहने से हार्ट अटैक का खतरा भी कम हो जाता है.अकेलेपन को करता है दूर

कोविड पेंडेमिक के दौर में लोगों को अगर सबसे ज्‍यादा परेशानी आई तो वह है अपनों के साथ शारीरिक रूप से दूरी बनाना. दरअसल डॉक्‍टरों का कहना है कि मानव शरीर की संरचना ही ऐसी है कि उसे हर वक्‍त कोई अपने बहुत करीब चाहिए. जब इंसान मां के पेट के अंदर रहता है तभी से यह नेचर वह लेकर बाहर आता है. ऐसे में अपनों से दूरी रखना उसे मानसिक रूप से प्रभावित करता है.

Special for You