योगी से ज्यादा है केजरीवाल की सैलरी, यह मुख्यमंत्री लेता है सबसे ज्यादा तनख्वाह

नई दिल्‍ली. आपको यह जानकार हैरानी होगी कि देश के सबसे बड़े सूबे उत्‍तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मुख्‍यमंत्री (Chief Minister) योगी आदित्‍यनाथ (Yogi Adityanath) की सैलरी (salary) कम है और सीमित अधिकारों वाले राज्‍य दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) की सैलरी अधिक है. यह जानकार और हैरानी हो सकती है कि तेलंगाना जैसे नए और छोटे राज्‍य के मुख्‍यमंत्री की सैलरी देश में सबसे अधिक है. इनकी सैलरी एक राज्‍य के मख्‍यमंत्री से चार गुना अधिक है. आइए जानें किस राज्‍य के मुख्‍यमंत्री की सैलरी कितनी है और सैलरी के अलावा और क्‍या-क्‍या सुविधाएं मिलती हैं.

देश के सबसे बड़े प्रदेश उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ की सैलरी 3,65,000 रुपये है, जबकि दिल्‍ली जैसे छोटे राज्‍य के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल की सैलरी 3,90,000 रुपये है. देश में सबसे कम सैलरी त्रिपुरा के मुख्‍यमंत्री की है. उनकी सैलरी 1,05,000 रुपये है. वहीं, 2014 में बने तेलंगाना राज्‍य के मुख्‍यमंत्री की सैलरी 4,10,000 रुपये है. त्रिपुरा और गोवा दोनों छोटे राज्‍य हैं, दोनों से दो-दो सांसद चुने जाते हैं लेकिन त्रिपुरा के मुकाबले गोवा के मुख्‍यमंत्री की सैलरी दोगुना से अधिक 2,20,000 रुपये है