ये लक्षण आपको बनाते हैं साइलेंट हार्ट अटैक का शिकार, बचने के लिए अपनाएं ये टिप्स

आजकल के भागदौड़ भरे जमाने में लोगों में हार्ट अटैक एक आम बीमारी बन चुका है। एक अच्छा भला इंसान कब इसका शिकार हो जाए इसके बारे में कहा नहीं जा सकता। ये एक ऐसी बीमारी है अगर समय पर किसी व्यक्ति को इसका इलाज ना मिले तो वह मौत का शिकार हो जाता है। लेकिन आज हम आपको दिल की बीमारी से भी खतरनाक ‘साइलेंट हार्ट अटैक’ के बारे में बताएंगे। आखिर इसके लक्षण क्या हैं और कैसे आप इससे बच सकते हैं।

साइलेंट हार्ट अटैक के लक्षण
जानकारी के लिए बता दें कि साइलेंट हार्ट अटैक आने की वजह मोटापा, हाई ब्लड प्रेशर, हाई कोलेस्ट्रॉल लेवल और डायबिटीज होती है। इस कारण आप इस बीमारी के शिकार होते हैं। हालांकि जब आप इस खतरनाक बीमारी के शिकार होते हैं उस वक्त करना क्या है ये किसी को समझ नहीं आता। बता दें कि साइलेंट हार्ट अटैक के आमतौर पर चार लक्षण होते हैं। अगर आपको भी ये लक्षण नजर आ रहे हैं तो तुरंत सावधान हो जाएं।

– अगर आपको सीने के बीच तेज बेचैनी महसूस, जैसे- सीने को कोई दबा रहा है, तेज दर्द हो रहा है या कोई अंगों को मुट्ठी में मसल रहा है, तो आप सावधान हो जाएं। ये एक ऐसा लक्षण है जो कुछ मिनटों या सेकंड तक आपको महसूस होता रहता है।

– इसके अलावा अगर आपको सीने के ऊपर कोई परेशानी महसूस हो जैसे- कंधों, दोनों बाजुओं, पीठ, गर्दन, पेट और जबड़ों में बेचैनी या दर्द महसूस हो तो ये आपके लिए खतरा बन सकता है।

-सीने में दबाव के साथ व्यक्ति को सांस लेने में परेशानी होने लगती है। इस कारण वह सही तरीके से सांस न ले पाते।

– वहीं अगर सिर भारी लगना, चक्कर आना और अचानक ठंड लगना या पसीना आना ये लक्षण भी आपको खतरे की ओर लेकर जाता है।

इन बातों पर अवश्य दें ध्यान
ज्यादातर लोग इन लक्षणों को नजरअंदाज करते हैं या सामान्य हो जाते हैं। हालांकि ऐसे लक्षण दिखने के बाद उन्हें सावधान हो जाना चाहिए। दरअसल, ऐसे लक्षण ही दूसरे और तीसरे अटैक का कारण बनते हैं। वहीं अगर उसके बाद आपको अटैक आया तो संभलने का मौका भी नहीं मिलेगा। इस कारण जब भी आपको खुद में ये लक्षण महसूस होते हैं तो डॉक्टर से चेकअप जरुर करवाएं।

इसके अलावा साइलेंट हार्ट अटैक में होने वाला सीने का दर्द इतना हल्का होता है, कि व्यक्ति को लगता है कि उसे गैस या पेट की बीमारी की वजह से दर्द हो रहा है। इसलिए सीने में होने वाले दर्द के साथ-साथ दूसरे लक्षणों के दिखने पर सावधान रहें और एक्सपर्ट की सलाह जरुर लें। अचानक सीने में दर्द होने पर घबराएं नहीं, बल्कि अन्य लक्षणों के दिखने पर ही इसे हार्ट अटैक समझें। इसके अलावा आपको अपने स्वास्थ्य पर अवश्य ध्यान देना चाहिए। समय-समय पर बॉडी चेकअप अवश्य करवाना चाहिए, क्योंकि छोटी सी गलती आपको भारी पड़ सकती है।