यूपी मे लाशें नहीं हो रही कम, तो टीन से ढके श्मशान, नाकामी ऐसे छिपा रही सरकार

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस (Corona Virus) लगातार भयावह रूप लेता जा रहा है। रोजाना रिकॉर्ड तोड़ मामले प्रदेश में दर्ज किए जा रहे हैं। राज्य में सबसे ज्यादा मामले राजधानी लखनऊ, कानपुर, प्रयागराज और वाराणसी में सामने आ रहे हैं। इन शहरों की स्थिति दिन ब दिन बिगड़ती जा रही है। अस्पतालों से लेकर श्मशान घाट से रूह कंपाने वाले नजारे देखे जा रहे हैं। इस बीच सूबे की योगी सरकार अपनी नाकामियों को छिपाने में लगी हुई है। सरकार अब बैकुंठधाम को टीन शेड से ढककर मौतों के आंकड़े छिपाने का काम कर रही है। दरअसल, लखनऊ में श्मशान स्थल पर टिन की चादरें लगाई जा रही हैं, ताकि इन जगहों की तस्वीरें जनता के सामने न आ सके।

वीडियो वायरल होने के बाद उठाया ये कदम
बता दें कि बीते दिन श्मशान स्थल से चिता जलाने के वीडियो और तस्वीरें सामने आई थीं, जिसने पूरे प्रदेश में हंगामा मचा दिया था। साथ ही सरकार पर कई सवाल खड़े कर दिए। जिसके बाद अब प्रशासन ने श्मशान घाट पर तस्वीरें लेने से रोकने के लिए टिन की चादरें बिछा दी हैं।

गौरतलब है कि यूपी में कोरोना की दूसरी लहर की दस्तक ने तबाही मचाने का काम किया है। प्रदेश में रिकॉर्ड तोड़ मामले सामने आ रहे हैं। यहां पर अस्पतालों में कोरोना के मरीज लगातार बढ़ने से बेड कम पड़ गए हैं। सरकार का कहना है कि बेड बढ़ाने का काम जोरों पर है। इस बीच सरकार ने अपील की है कि अगर वे कोरोना वायरस से संक्रमित हैं और वे घर पर आइसोलेट हो सकते हैं तो वे अस्पताल न आएं। घर पर ही आइसोलेशन में रहें। बता दें कि पिछले 24 घंटे में यूपी में 22 हजार से अधिक नए मामले सामने आए हैं। लखनऊ में 5183 नए केस दर्ज हुए हैं। वहीं, प्रयागराज में 1888, वाराणसी में 1859 केस, कानपुर में 1263 केस, गोरखपुर में 750 केस मिले हैं।

Special for You