मुस्लिम दंपत्ति छोड़ा इस्लाम, हिंदू धर्म अपना कर बोले बहुत बड़ी गलती की थी

शामली: उत्तर प्रदेश के शामली जिले में एक मुस्लिम दंपति व उसके 4 बच्चों ने धर्म परिवर्तन कर हिंदू धर्म अपना लिया है। दंपति ने बकायदा शामली कलेक्ट्रेट पहुंचकर अधिकारियों को एक शपथपत्र दिया और बताया कि वे अब राशिद से विकास व मंजू बानो से संजू के रूप में नाम परिवर्तित करते हुए हिंदू धर्म में लौट आए हैं। दंपति का कहना है कि 12 साल पहले उनके माता-पिता ने इस्लाम अपना लिया था, लेकिन वह अब मुस्लिम धर्म में नहीं रहना चाहते हैं इसलिए हिंदू धर्म अपना रहे हैं।

12 साल बाद की हिंदू धर्म में वापसी

रिपोर्ट्स के मुताबिक, शामली जिले के कांधला कस्बे के राजयादगान मोहल्ले में रहने वाले राशिद पुत्र समर व मंजू बानो पत्नी राशिद बुधवार को शामली तहसील पहुंचे। यहां दोनों ने खुद को पति पत्नी बताते हुए एक अधिकारियों को एक शपथपत्र सौंपा। राशिद ने बताया कि 12-13 साल पहले उसके माता-पिता ने इस्लाम अपना लिया था, लेकिन वह मुस्लिम नहीं बना रहना चाहता इसलिए उसने अपना नाम राशिद से बदलकर विकास रख लिया है। राशिद उर्फ विकास ने बताया कि उसकी पत्नी मंजू देवी व उसके चारों बच्चों ने हिंदू धर्म में वापसी कर ली है।

‘हमने अपनी गलती सुधार ली है’
राशिद ने कहा कि जब उसके माता-पिता ने धर्म परिवर्तन किया था तो उसे समझ नहीं थी लेकिन अब वह अपनी गलती को सुधार कर हिंदू धर्म में वापसी कर रहा है। राशिद उर्फ विकास ने कहा कि वह इस मामले को लेकर शामली के एसडीएम से भी मिले थे, लेकिन उन्होंने कहा कि इस मामले को अदालत में ले जाना पड़ेगा। राशिद ने कहा कि उसके ऊपर किसी का दबाव नहीं है और वह अपनी मर्जी से इस्लाम छोड़कर हिंदू धर्म में वापस आना चाहता है। वहीं, राशिद की पत्नी मंजू ने कहा कि जब उसकी शादी हुई थी तब वे सब हिंदू थे, लेकिन बाद में उनके सास-ससुर ने इस्लाम अपना लिया था।