महापंचायत में अल्लाह हू अकबर क्यों बोला? राकेश टिकैत ने आखिरकार दिया जवाब

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में हुई किसान महापंचायत में किसान नेता राकेश टिकैत ने अल्लाह हू अकबर के नारे लगाए थे जिसके बाद से उनके पास रोजाना फोन आ रहे हैं। राकेश टिकैत सवाल किया कि क्या अल्लाह हू अकबर कहना या हर हर महादेव कहना देश में प्रतिबंधित हैं? उन्होंने बताया कि पिछले 4-5 दिन से लोग फोन कर उन्हें गाली दे रहे हैं।

राकेश टिकैत ने कहा, “अल्लाह हू अकबर कहना या हर हर महादेव कहना क्या देश में प्रतिबंधित हैं। जो लोग हमारे बयान कि क्लिप सोशल मीडिया पर वायरल कर रहे हैं, उन्होंने हमारे फोन नंबर सोशल मीडिया पर डाल रखे हैं और बोल रखा है कि नंबर राकेश टिकैत का है और उसको यही शब्द कहो। पिछले 4-5 दिन से वे लोग गाली देते हैं हमको।”

उन्होंने आगे कहा, “फोन पर वे लोग गाली देते हैं और कहते हैं कि आपने अल्लाह हू अकबर क्यों कहा हर हर महादेव क्यों कहा। देश में जब टिकैत साबह थे उस समय भी यह नारे लगते थे। अगर हमने ऊपर से हर हर महादेव कहा तो सामने वाली भीड़ अल्लाह हू अकबर कहती थी और हमने अल्लाह हू अकबर कहा तो भीड़ हर हर महादेव कहती थी।”

इस बीच पुलिस लाठीचार्ज के विरोध में प्रदर्शन कर रहे किसानों की राज्‍य सरकार के साथ बातचीत फिर विफल हो गई है। इन किसानों का कहना है कि राज्‍य सरकार के साथ उनकी बातचीत लगातार दूसरे दिन बेनतीजा रही है और वे करनाल में लंबा प्रदर्शन कर सकते हैं।

राकेश टिकैत ने कहा, “हम सिंघु और टिकरी बॉर्डर की तरह यहां स्‍थायी तौर पर प्रदर्शन कर सकते हैं।” टिकैत ने बताया कि हमारी आज प्रशासन के साथ 3 घंटे मीटिंग हुई। सरकार SDM आयुष सिन्हा पर कोई भी कार्रवाई करने के लिए तैयार नहीं है, ऐसे में हमने तय किया है कि हमारा धरना प्रदर्शन जारी रहेगा, हमारा धरना स्थल यही रहेगा। हम चाहते हैं कि अधिकारी के ख़िलाफ़ कार्रवाई हो।