मंहगाई की थाली में राहत का स्वाद, तेल में 40 रुपए कमी, दाल और प्याज के दाम भी घटे

नई दिल्ली: महंगाई की मार ने आम आदमी की थाली को बेस्वाद कर दिया था लेकिन अब राहत की स्वाद लौटती नजर आ रही है। तेल की कीत में 20 से 40 रुपए तक गिरावट आई है। जबकि दाल और प्याज की कीमत भी कम हुई है। पिछले कुछ महीनों में आम आदमी पर पेट्रोल और डीजल एवं रसोई गैस के साथ कई सामानों में चौतरफा महंगाई की मार पड़ी है। कुछ समय पहले तक खाद्य तेल, दाल और प्याज की कीमत आंसू निकालने का काम कर थी।

अब खाद्य तेलों में 20 से 40 रुपए की गिरावट हुई है। इसी के साथ दालों की कीमत में भी 25 से 45 रुपए की कमी आई है। प्याज पिछले साल सौ के पार चला गया था। नए साल में भी इसकी कीमत 50 रुपए के पार थी वह प्याज अब चिल्हर में 25 से 30 रुपए में बिक रहा है।

आम आदमी की कमर को महंगाई ने तोड़ने का काम किया है। लगातार हर सेक्टर में महंगाई आसमान पर जा रही है। पेट्रोल और डीजल की कीमतों का असर मालभाड़ा पर पड़ने के साथ कई सामान लगातार महंगे होते जा रहे हैं। ऐसे समय में किसी सामान की कीमत के कम होने की कल्पना नहीं की जा सकती है लेकिन अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे खाद्य तेल की कीमत कम होने के साथ एक्साइज ड्यूटी में भी कुछ कमी होने से खाद्य तेलों में राहत मिली है।

किस तेल में कितनी कमी
इस समय प्रदेश के बाजार में सभी तरह के खाद्य तेलों में कमी आ गई है। सबसे ज्यादा बिकने वाला सोया तेल एक माह पहले ही चिल्हर में 160 रुपए तक पहुंच गया था। अब इसकी कीमत 20 रुपए तक कम हो गई है। थोक में जहां सोया तेल 129 रुपए हो गया है। वहीं चिल्हर में यह 140 रुपए तक बिक रहा है। सोया में ऊंचे क्वालिटी का तेल थोक में 132 से 138 रुपए मिल रहा है।

जबकि चिल्हर में इसकी कीमत 150 रुपए है। सबसे सस्ता राइसब्रान तेल भी थोक में 150 रुपए तक चला गया था। अब यह 40 रुपए कम होकर 110 में मिल रहा है। सनफ्लाॅवर में भी 30 रुपए की कमी आई है। यह थोक में 180 तक चला गया था। अब 150 रुपए में मिल रहा है। सरसों तेल थोक में 190 और चिल्हर में दो सौ रुपए पार हो गया था। अब यह थोक में 160 रुपए तक आ गया है। चिल्हर में यह 170 रुपए में बिक रहा है। फल्ली तेल 190 रुपए हो गया था। जो अब 155 रुपए पर आ गया है।

दाल में भी राहत
दालों में राहर दाल की कीमत तो इस साल 130 रुपए तक चली गई थी। इसी के साथ मूंगदाल सबसे महंगी हो गई थी। इसकी कीमत 140 रुपए तक पहुंच गई थी, लेकिन अब राहर दाल थोक में 90 से 95 रुपए में मिल रही है। वहीं चिल्हर में 100 से 105 में मिल रही है। इसी के साथ मूंगदाल 75 से 85 रुपए थोक में और चिल्हर में 95 रुपए में मिल रही है। चना दाल थोक में 62 और चिल्हर में 75 रुपए, उड़द दाल थोक में 80 से 90 और चिल्हर में 90 से 100 रुपए बिक रही है। देशी चना थोक में 52 और चिल्हर में 60 से 65 रुपए मिल रहा है। काबुली चना थोक में 80 से 88 और चिल्हर में 90 से 100 रुपए में मिल रहा है।

कच्चा तेल 20 फीसदी सस्ता
तेल के थोक कारोबारी प्रेम पाहुजा के मुताबिक विदेश से आने वाला कच्चा खाद्य तेल कुछ समय पहले तक 74 सौ डालर मीट्रिक टन मिल रहा था, वह इस समय 58 से 60 सौ डॉलर में मिल रहा है। इसके आने वाले समय में 55 सौ डॉलर तक जाने की संभावना है। कच्चा तेल करीब 20 फीसदी सस्ता हुआ है। इसी के साथ केंद्र सरकार एक्साइज ड्यूटी को भी समय-समय पर कम कर रही है जिसके कारण खाद्य तेलों की कीमत में राहत मिल रही है।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.