बैंक में ग्राहकों के लाखों चालू खाते बंद, कहां जाएगा जमा पैसा, जानिए डिटेल

नई दिल्ली: देश की बैंक ने ग्राहकों के लिए एक मुसीबत खड़ी कर दी है। बैंक ने देश के लाखों लोगों का चालू खाता बंद कर दिया है। इससे छोटे कर्मचारियों को कई दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। बताया जा रहा है कि बैंकों ने इन खातों को आरबीआई (RBI) के निर्देश पर बंद किया है। बैंकों ने कस्टमर्स को ईमेल (Email) भेजकर उनके चालू खाते को बंद करने के निर्देश दिए हैं।

आपको बता दें कि एसबीआई (SBI) ने अपने कस्टमर्स को कई बार रिमाइंडर भेजने के बाद 60,000 अकाउंट्स को बंद कर दिया है। पिछले साल आरबीआई ने करेंट अकाउंट को खोलने के लिए नए नियम बनाए थे। इसमें कहा गया था कि लोन लेने वाले का केवल उसी बैंक में चालू खाता हो सकता है जिसमें उसकी कुल उधारी का कम से कम 10 फीसद हिस्सा हो। बताया जा रहा है कि इसका पालन करने के लिए 3 महीने का समय दिया गया है।

बैंकों को इस नियम का पालन को लेकर हो रही देरी को लेकर आरबीआई ने इसे 31 जुलाई 2021 तक बढ़ाने का निर्देश दिया था। अब इस नियम की समय सीमा समाप्त हो गई है। इस नियम का मकसद कैश फ्लो पर नजर रखना और फण्ड की हेराफेरी को लेकर आरबीआई ने चालू खातों को बंद करने के निर्देश दिए गए हैं। कस्टमर्स को इस नए नियम से काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

बैंक ने देश के लाखों लोगों का चालू खाता बंद कर दिया है। इससे लोग अपनी भड़ास निकालने क लिए ट्विटर का सहारा ले रहे हैं। आईसीआईसीआई बैंक के एक कस्टमर ने वित्त मंत्री सीतारमण से हस्तक्षेप की गुहार लगाई है। उन्होंने कहा है कि मैडम कृपया एमएसएमई बैंक अकाउंट की मदद कीजिए। आईसीआईसीआई बैंक ने बिना जानकारी के उनके 4 में से 3 करेंट अकाउंट को बंद कर दिया गया है।