पति ने पत्नी का किया ऐसा हाल, देखकर हर कोई हो गया बेहाल

बहराइच। दहेज में बाइक व एक लाख नकदी न मिलने पर पत्नी को चार दिन पूर्व बांधकर पति ने उसके सिर के बाल मूड़ दिए। इसके बाद पत्नी को पीट कर घर से भगा दिया। पीड़िता मायके से पिता को साथ लेकर थाने जाकर तहरीर दिया। जिस पर पुलिस उसके ससुर को पकड़ लाई और शाम को छोड़ दिया। कोई कार्रवाई न होने पर पीड़िता पिता के साथ एसपी दफ्तर पहुंची। एसपी के निर्देश पर पुलिस ने इस मामले में पति सहित तीन पर केस दर्ज कर लिया है।

नेपाल के बांके जिले के चंडहवा गांव निवासी अमजद अली ने अपनी बेटी का निकाह पांच वर्ष पूर्व मुस्लिम रीति रिवाज से मटेरा के ग्राम समोखन निवासी साजिद साईं उर्फ सिरताज के साथ किया था। मायके वालों का कहना है कि शादी के बाद से ही दहेज में बाइक व काम करने को एक लाख रुपये की मांग को लेकर महिला को मारपीट कर उत्पीड़न किया जाता था। अमजद अली की आर्थिक स्थिति ऐसी नहीं थी कि वह दहेज में बाइक व नगदी दे पाता। उसकी बेटी के एक बच्चा भी हो चुका था। रविवार को पत्नी को चारपाई से बांधकर उसके बाल मूड़ दिये और उसकी पिटाई कर घर से भगा दिया गया।

अपने बच्चे को साथ लेकर पीड़िता किसी प्रकार मायके पहुंची। पीड़िता का कहना है कि सोमवार को उसका पिता उसे लेकर मटेरा थाने गया। पीड़िता की ओर से सर मूंडकर मारपीट कर दहेज के लिए घर से भगाने की तहरीर दी गई। जिस पर पुलिस उसके ससुर को पकड़ लाई। थाने से बेटी व बाप के जाने के बाद ससुर को छोड़ दिया गया। मंगलवार को अमजद अली बेटी के साथ फिर थाने गया, तो पता चला कि केस दर्ज ही नहीं किया गया है। यही नहीं पीड़िता से कहा गया कि वह पति को तलाश कर पुलिस को जानकारी दे। इसके बाद पीड़िता मायके वालों के साथ एसपी के पास पहुंची।

एसपी सुजाता सिंह के निर्देश पर एसएचओ आरपी यादव ने पीड़िता के पति, सास व ससुर को नामजद कर मारपीट, दहेज उत्पीड़न व बाल मूड़े जाने के मामले में मान हानि का केस दर्ज कर लिया। पुलिस मामले की जांच कर रही है।