नगद से लेकर कार तक- ‘गोल्डन बॉय’ नीरज चोपड़ा के लिए हुई पुरस्कारों की बारिश

भारतीय एथलीट नीरज चोपड़ा ने टोक्यो ओलिंपिक खेलों में गोल्ड मेडल जीतकर इतिहास रचा. उन्होंने भाला फेंक स्पर्धा में 87.58 मीटर के थ्रो के साथ भारत को टोक्यो में पहला गोल्ड दिलाया. यह एथलेटिक्स में भी 100 साल में भारत का पहला मेडल है. इस कामयाबी के बाद नीरज चोपड़ा की पूरी देश में जय-जयकार हो रही है. साथ ही सरकारों और बाकी लोगों ने उनके लिए तिजोरियों के मुंह खोल दिए हैं. नीरज चोपड़ा के लिए करोड़ों रुपये का ऐलान हो चुका है. साथ ही कई दूसरे ऐलान भी हुए हैं जिनमें कार, फ्री हवाई सफर, घर बनाने के लिए फ्री सीमेंट शामिल है.

भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) ने भी टोक्यो ओलिंपिक के पदक विजेताओं के लिए नकद पुरस्कार की घोषणा की. इसमें नीरज चोपड़ा को एक करोड़ रुपये दिये जाएंगे. वहीं रजत पदक विजेताओं – भारोत्तोलक मीराबाई चानू और पहलवान रवि दहिया को 50-50 लाख रुपये और कांस्य पदक जीतने वाले पहलवान बजरंग पूनिया, मुक्केबाज लवलीना बोरगोहेन और बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधू को 25-25 लाख रुपये मिलेंगे. पुरूष हॉकी टीम को कांस्य पदक जीतने के लिए 1.25 करोड़ रुपये दिये जाएंगे. बीसीसीआई सचिव जय शाह ने यह जानकारी दी.

इंडियन प्रीमियर लीग फ्रेंचाइजी चेन्नई सुपर किंग्स ने भी नीरज चोपड़ा को एक करोड़ रुपये का पुरस्कार देने की घोषणा की. चेन्नई सुपर किंग्स ने एक बयान में कहा, ‘नीरज चोपड़ा की शानदार उपलब्धि को सम्मान देने के लिये चेन्नई सुपर किंग्स उन्हें एक करोड़ रुपये का पुरस्कार देगी. चेन्नई सुपर किंग्स नीरज चोपड़ा को सम्मान देने के लिये 8758 नंबर की विशेष जर्सी भी तैयार करेगी.’नीरज चोपड़ा को महिंद्रा ग्रुप ने अपनी नई कार XUV700 देने का ऐलान किया है. कंपनी के चेयरमैन आनंद महिंद्रा मे ट्वीट कर यह वादा किया. उन्होंने महिंद्रा मोटर्स के एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर और ऑटोमोटिव डिविजन के सीईओ से कहा कि वे एक गाड़ी नीरज के लिए तैयार रखें.

इंडिगो एयरलाइंस ने नीरज चोपड़ा के गोल्ड मेडल के बाद उन्हें एक साल तक अनलिमिटेड मुफ्त सफर कराने का ऐलान किया है. कंपनी ने कहा है कि भारतीय भाला फेंक खिलाड़ी 7 अगस्त 2022 तक उनकी फ्लाइट में फ्री में सफर कर सकते हैं. वहीं गुरुग्राम की एक रियल इस्टेट कंपनी ने भी नीरज चोपड़ा को 25 लाख रुपये देने का ऐलान किया है. इस कंपनी का नाम इलान ग्रुप है. कंपनी के चेयरमैन राकेश कपूर ने कहा कि उनके पिता धरम पाल भारत के लिए बास्केटबॉल खेले थे और 1951 के एशियन गेम्स में हिस्सा लिया था. उनके परिवार का खेल से जुड़ाव है. ऐसे में उनकी कंपनी नीरज चोपड़ा को 25 लाख रुपये देगी. इससे पहले एक सीमेंट कंपनी ने ओलिंपिक में मेडल जीतने वाले खिलाड़ियों को घर बनाने के लिए सीमेंट फ्री देने का ऐलान किया था. यह ऐलान बांगड़ सीमेंट की ओर से हुआ था.

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने नीरज चोपड़ा को गोल्ड मेडल जीतने पर छह करोड़ रुपये नकद देने का ऐलान किया. खट्टर ने इसके साथ ही चोपड़ा को पंचकुला में एथलेटिक्स के सेंटर ऑफ एक्सीलेंस का प्रमुख बनाए जाने का ऐलान भी किया. उन्होंने कहा, ‘हमारी खेल नीति के तहत नीरज को छह करोड़ रुपये का नकद पुरस्कार, क्लास वन की नौकरी और सस्ती दरों पर प्लॉट दिया जाएगा.’ पंजाब सरकार ने भी नीरज चोपड़ा के लिए धन बरसाया है. मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने दो करोड़ रुपये देने का ऐलान किया.