जीजा और उसके दोस्तों से हो गये महिला के संबंध, पति को अनजाने ही…

सहारनपुर। शहर के एक कपड़ा कारोबारी की उसकी पत्नी के कारण ही हत्या हो गई। महिला के अपने सगे जीजा और उसके दो दोस्तों के साथ संबंध बन गए थे। एक दोस्त महिला से शादी भी करना चाहता था, लेकिन पति होने के कारण नहीं कर पा रहा था। जिसके बाद तीनों दोस्तों ने महिला के पति की हत्या की योजना बनाई और कपड़ा व्यापारी का अपहरण करके उसे बेहट क्षेत्र में ले गए। यहां पर गला घोटकर उसकी हत्या कर दी। जिसके बाद शव को एक तालाब में फेंक दिया। हालांकि पत्नी का हत्या में कोई योगदान नहीं रहा। पुलिस ने तीनों आरोपितों का जेल भेज दिया है।

एसएसपी डा. एस चन्नपा ने पुलिस लाइन के सभागार में प्रेसवार्ता के दौरान बताया कि छह जुलाई को शहर कोतवाली क्षेत्र के मोहल्ला नूरबस्ती निवासी शौकत गायब हुआ था। उसकी पत्नी ने सात जुलाई को गुमशुदगी दर्ज कराई थी। बाद में मामला अपहरण में तरमीम कर लिया गया था। पुलिस ने शौकत की मोबाइल की लोकेशन ली तो पता चला कि बेहट क्षेत्र में उनका मोबाइल बंद हुआ है। इसके बाद पत्नी के मोबाइल की सीडीआर से पता चला कि बेहट के शाहनवाज पुत्र अनीस निवासी मोहल्ला सड़कपार बेहट से शौकत की पत्नी बातचीत करती है। शाहनवाज को हिरासत में लेकर पूछताछ की गई तो पता चला कि शौकत की पत्नी के अपने सगे जीजा रफाकत पुत्र मतलूब निवासी अबाबाक्करपुर थाना मिर्जापुर और राशिद पुत्र जमशेद के साथ भी अवैध संबंध है। शाहनवाज महिला से शादी करना चाहता था। पति शौकत के होने के कारण शादी नहीं हो पा रही थी। जिसके बाद तीनों मिलकर उसकी हत्या की योजना बनाई। छह जुलाई को शौकत अपनी कपड़े की दुकान बंद कर रहा था। उसी समय तीनों ने उसका कार से अपहरण कर लिया। इसके बाद वारदात को अंजाम दिया।

शौकत के परिजन एसपी सिटी से मिले

शौकत के परिजन एसपी सिटी से मिले और उन्होंने तीनों आरोपितों को कड़ी से कड़ी सजा दिलाने की मांग की। परिजन पत्नी को भी सजा दिलाना चाहते थे, लेकिन एसपी सिटी ने बताया कि उनकी पत्नी का हत्या में कोई रोल नहीं है। पत्नी को कुछ नहीं पता था। हालांकि अब पत्नी को भी दुख है।