जिस ट्रैक्टर से राहुल गांधी गये संसद भवन, पुलिस ने उसका किया ऐसा हाल

नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी व प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला के नेतृत्व में ट्रैक्टर पर सवार होकर कृषि सुधार कानूनों के विरोध में प्रदर्शन करने संसद भवन की तरफ जाने के दौरान पुलिस ने सुरजेवाला समेत 10 कार्यकर्ताओं को हिरासत में ले लिया। उन्हें बस में बैठाकर मंदिर मार्ग थाने ले आया गया, जहां से पूछताछ के बाद शाम को सभी को छोड़ दिया गया। पुलिस ने बिना नंबर प्लेट के उस ट्रैक्टर को भी जब्त कर लिया जिसपर सवार होकर राहुल व सुरजेवाला समेत अन्य कार्यकर्ता वहां आए थे।

किसान आंदोलन व 15 अगस्त के मददेनजर नई दिल्ली जिले में धारा 144 लगी है। साथ ही ट्रैक्टर के प्रवेश पर सख्त पाबंदी है। बावजूद इसके ट्रैक्टर संसद मार्ग इलाके तक कैसे पहुंच गया, इस संबंध में आला अधिकारियों ने उच्च स्तरीय जांच शुरू कर दी है। ये सभी मोती लाल नेहरू मार्ग होते हुए ट्रैक्टर से संसद मार्ग इलाके में पहुंचे थे।

डीएसजीपीसी के धन के दुरुपयोग मामले में मनजिंदर सिंह सिरसा के खिलाफ जारी किया गया लुक आउट नोटिस

जंतर-मंतर पर किसान संसद चलने के कारण वहां 200 प्रदर्शनकारियों की सुरक्षा में करीब 2000 से अधिक सुरक्षाकर्मियों को तैनात किया गया है। नई दिल्ली जिला के सभी थानों के एसीपी व इंस्पेक्टरों की जंतर-मंतर पर डयूटी लगाई गई है।

डीसीपी नई दिल्ली जिला दीपक यादव के मुताबिक सुबह करीब 10.50 बजे संसद मार्ग इलाके में पुलिसकर्मियों ने देखा कि राहुल गांधी व सुरजेवाला के साथ दस कार्यकर्ता बिना नंबर प्लेट के ट्रैक्टर पर सवार होकर विरोध प्रदर्शन करने संसद भवन की तरफ आ रहे हैं। ट्रैक्टर राहुल गांधी चला रहे थे। पुलिसकर्मियों ने सभी को रोक कर हिरासत में ले लिया।

पूछताछ के बाद राहुल गांधी को संसद जाने के लिए छोड़ दिया गया। लेकिन सुरजेवाला समेत 10 कार्यकर्ताओं को हिरासत में ले लिया गया। बस से मंदिर मार्ग थाना ले जाने के दौरान कार्यकर्ता रास्ते भर सरकार विरोधी नारे लगाते रहे।