जिम ट्रेनर के साथ सामने आई डाक्टर की पत्नी की अंतरंग तस्वीरें, पुलिस खोल दिया पूरा कांड

पटना। पटना में जिम ट्रेनर विक्रम सिंह पर जानलेवा हमला करवाने के मामले में बड़ा खुलासा हुआ. जिम ट्रेनर गोली कांड में पुलिस ने बताया कि ये हमला जेडीयू के पूर्व चिकित्सा प्रकोष्ठ के प्रदेश उपाध्यक्ष डॉ. राजीव कुमार सिंह की पत्नी खुशबू ने ही करवाया था. विक्रम और खुशबू पहले से एक-दूसरे को जानते थे और घंटों फोन पर बातें किया करते थे. फिलहाल अब पुलिस ने खुशबू समेत 6 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है.

आजतक की खबर के अनुसार दरअसल, जिम ट्रेनर विक्रम सिंह को कदमकुआं इलाके में 18 सितंबर को पांच गोली मारी गई थी. इस मामले में विक्रम ने पुलिस को बताया था कि डॉ राजीव और उनकी पत्नी खुशबू ने उसपर जानलेवा हमला करवाया. इसके बाद पटना पुलिस ने डॉ राजीव और खुशबू से थाने में पूछताछ की, लेकिन बाद में उन्हें छोड़ दिया.

हालांकि, अब पुलिस ने मामले का खुलासा कर दिया है. जिम ट्रेनर पर गोली खुशबू ने ही चलवाई थी. इसके लिए उसने अपने पूर्व प्रेमी से संपर्क किया था, जिसने एक शूटर का बंदोबस्त किया था. इस बीच जिम ट्रेनर के साथ खुशबू की कई तस्वीरें सामने आईं है.

बताया गया कि खुशबू पांच साल पहले दानापुर के रहने वाले मिहिर के संपर्क में थी, दोनों के काफी घनिष्ठ संबंध थे. लेकिन इस बीच खुशबू की जिंदगी में विक्रम सिंह आ गया. धीरे-धीरे खुशबू ने मिहिर से दूरी बना ली.

शुरुआती जांच में पता चला कि विक्रम और खुशबू घंटों फोन पर बातें किया करते थे. जनवरी से लेकर अब तक विक्रम और खुशबू के बीच तकरीबन 1100 बार फोन पर बातचीत हुई. दोनों की साथ में कई तस्वीरें भी सामने आईं, जिससे पता चलता है कि वो कितने करीब थे.

हालांकि, विक्रम और खुशबू का रिश्ता ज्यादा लंबा नहीं चला. दूरी बनाने के लिए खुशबू ने विक्रम को रास्ते से हटाने का प्लान किया. इसके लिए उसने अपने पहले प्रेमी मिहिर से संपर्क किया और उसके जरिए अमन नाम के शूटर को सुपारी दे दी.

सुपारी की रकम एक लाख 85 हजार रुपये तय हुई. दो महीना तक रेकी करने के बाद शूटर ने घटना को अंजाम दिया. लेकिन पांच गोली लगने के बाद भी जिम ट्रेनर विक्रम बच गया. उसने खुशबू और उसके पति के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाई.

जिस पर पुलिस ने एक्शन लेते हुए 6 आरोपियों को जेल भेज दिया, जिसमें डॉ राजीव और उनकी पत्नी खुशबू भी शामिल है. डॉ और उनकी पत्नी सहित 8 लोगो पर धारा 307 के तहत मामला दर्ज हुआ. दो लोग अब भी फरार हैं.