खा लिया है बहुत ज्यादा ऑयली फूड तो करें ये काम, नहीं होगा नुकसान

कई बार हम बहुत ज्यादा ऑयली फूड खा लेते हैं और इसके बाद हमें पछतावा होने लगता है कि हमने ऐसा खाना क्यों खाया. जंक फूड, ज्यादा तली हुई चीजें खाने से परहेज करना चाहिए, लेकिन अगर आपने ऐसी चीजें कभी-कभार खा लीं, तो कुछ नियमों को फॉलो करे. इससे आप ऑयली फूड के नुकसान पहुंचाने वाले प्रभावों से बचेंगे. इन नियमों को फॉलो करने से आपको पेट दर्द, सूजन और दूसरी कई समस्याओं से काफी हद तक राहत मिलेगी.

गुनगुना पानी पीएं
गुनगुने पानी पीने से पाचन तंत्र सक्रिय हो जाएगा. इससे पोषक तत्वों को डाइजेस्टेबल फॉर्म में तोड़ने में मदद मिलती है और डाइजेशन में दिक्कत नहीं आती.

​सब्जी और फल खाएं
ट्रांस फैट और सेचुरेटेड फैट के सेवन से कब्ज की समस्या हो सकती है. ऐसे में फल और सब्जियों का सेवन आपको फायदा पहुंचाएगा. ये शरीर में विटामिन, फाइबर और मिनरल की कमी को पूरा करते हैं. सुबह नाश्ते में बीज वाले फल खाएं. भोजन की शुरुआत एक कटोरी सलाद से करें. भोजन की पहले से प्लानिंग करने. इससे जंक फूड खाने से बचेंगे. सुबह स्वस्थ और पौष्टिक नाश्ता जरूर करें. आहार में सब्जियां, साबुत अनाज शामिल करें. खुद को हाइड्रेट रखें.

​डिटॉक्स ड्रिंक
कुछ भी ऑयली खाने के बाद डिटॉक्स ड्रिंक लें, इससे फायदा मिलेगा और टॉक्सिक पदार्थ बाहर निकल जाएंगे. नींबू का रस पानी में डालकर पीएं. इससे शरीर के फैट को कम करने में मदद मिलेगी.

​प्रोबायोटिक्स
प्रोबायोटिक्स का नियमित सेवन करें. ऑयली फूड खाने के बाद एक कप दही खाने से बहुत आराम मिलेगा. वहीं बहुत ज्यादा तला हुआ भोजन खाने के बाद ठंडी चीज से परहेज करना चाहिए. इसे लीवर और आंतों को नुकसान पहुंचता है. तैलीय भोजन को पचाना इतना आसान नहीं होता. इसके बाद ठंडे भोजन को पचाना और मुश्किल हो जाता है.

​टहलने जाएं
तैलीय भोजन खाने के बाद वॉक पर जाएं. वॉक करने से वजन कम करने में भी मदद मिलेगी.

​अच्छी नींद लें
अच्छी नींद आपके मूड को बूस्ट कर सकती है, इसलिए जितना संभव हो ऑयली फूड खाने के बाद आराम करें. रात के खाने और सोने के बीच हमेशा 2-3 घंटे का अंतर होना चाहिए. ऑयली भोजन खाने के बाद तुरंत सोने न जाएं. भोजन करने के तुरंत बाद सोने से खाना पचाने में दिक्कत आती है. इससे फैट के जमा होने की संभावना बढ़ जाती है.

(Disclaimer: यहां दी गई जानकारी घरेलू नुस्खों और सामान्य मान्यताओं पर आधारित है. इसे अपनाने से पहले चिकित्सीय सलाह जरूर लें.)