कोहली ने तोड़ी चुप्पी, बताया क्यों चहल को किया T20 वर्ल्ड कप टीम से बाहर

नई दिल्ली: टी20 वर्ल्ड कप टूर्नामेंट आज से यूएई औ ओमान में शुरू हो रहा है. इस टूर्नामेंट के पहले मैच में भारत का सामना पाकिस्तान की टीम से होना है. बता दें कि भारत बीसीसीआई ने जब पिछले महीने वर्ल्ड कप के लिए भारतीय टीम की घोषणा की तो इस बात पर काफी बवाल मचा कि स्टार लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल को क्यों टीम में जगह नहीं दी गई. लेकिन इस बात पर अब टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने अपनी चुप्पी तोड़ी है.

विराट ने क्यों किया चहल को बाहर?
भारत के कप्तान विराट कोहली ने शनिवार को माना कि युजवेंद्र चहल जैसे खिलाड़ी को टी20 विश्व कप की टीम से बाहर रखने का फैसला कठिन था लेकिन यूएई की धीमी पिचों पर गेंदबाजी में रफ्तार के कारण राहुल चाहर को चुना गया. राजस्थान के चाहर ने आईपीएल के इस सत्र में मुंबई इंडियंस के लिए 11 मैचों में 13 विकेट लिए लेकिन आखिरी चरण में उन्हें टीम में जगह नहीं मिली. वहीं चहल ने 15 मैचों में 18 विकेट लिए और हर्षल पटेल (32 विकेट) के बाद उन्होंने आरसीबी के लिए सबसे बेहतरीन प्रदर्शन किया.

ये कठिन फैसला था- कोहली

कोहली ने टी20 वर्ल्ड कप से पहले आईसीसी कप्तानों की प्रेस कांफ्रेंस में कहा, ‘यह चुनौतीपूर्ण फैसला था लेकिन हमने इसलिए राहुल चाहर को चुना क्योंकि पिछले कुछ सत्र में उसने शानदार गेंदबाजी की और वह रफ्तार के साथ गेंदबाजी करता है.’ उन्होंने कहा कि चाहर के प्रदर्शन में निरंतरता पर भी चयन समिति की बैठक में बात की गई.

कोहली ने कहा, ‘हमारा मानना है कि टूर्नामेंट में विकेट धीमे होते जाएंगे. ऐसे में अधिक रफ्तार से गेंदबाजी करने वाले धीमे गेंदबाज बल्लेबाजों को ज्यादा परेशान कर सकेंगे. राहुल ऐसा गेंदबाज है जो विकेट चटकाने की कला में माहिर है. चहल को बाहर रखने का फैसला हालांकि काफी कठिन था लेकिन विश्व कप टीम में संख्या सीमित होती है और हर किसी को जगह नहीं मिल सकती.’

भुवनेश्वर का किया बचाव
कोहली ने तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार का भी बचाव किया जिन्हें आईपीएल के दौरान यूएई में अधिक स्विंग नहीं मिल सकी. उन्होंने कहा, ‘उनकी इकॉनामी रेट लाजवाब है. दबाव के हालात में अनुभव काफी काम आता है. सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ आईपीएल के हमारे आखिरी मैच में हमने देखा कि किस तरह उसने एबी डिविलियर्स के खिलाफ गेंदबाजी की जो दुनिया में टी20 क्रिकेट के सबसे खतरनाक दो या तीन फिनिशर्स में से हैं.’

सबसे कामयाब गेंदबाज हैं चहल
बता दें कि टी20 क्रिकेट में युजवेंद्र चहल भारत के सबसे सफल गेंदबाज हैं. उन्होंने इस फॉर्मेट में भारत के लिए सबसे ज्यादा विकेट झटके हैं. 2016 से लेकर अबतक चहल ने भारत के लिए 49 टी20 मुकाबले खेले हैं जिसमें उन्होंने 63 विकेट लिए हैं. भारत का कोई दूसरा गेंदबाज आजतक इंटरनेशनल क्रिकेट में इतने टी20 विकेट नहीं ले पाया है.