कोरोना की तीसरी लहर पर बेहद बुरी खबर, डेल्टा वेरिएंट ने मचाई तबाही, 5 की मौत, फिर लगेगा लॉकडाउन

मुंबई। महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के डेल्टा स्वरूप से संक्रमित अब तक 66 मरीज मिले हैं और उनमें से पांच की मौत हो चुकी है। इन 66 मरीजों में से कुछ ने टीके की दोनों खुराक ले रखी थी। राज्य के स्वास्थ्य विभाग ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। राज्य के विभिन्न हिस्सों से मरीजों के लिए गए नमूनों के जीनोम अनुक्रमण जांच में ये मामले आए। मुंबई में कोरोना वायरस के डेल्टा प्लस स्वरूप के संक्रमण से 63 वर्षीय महिला की मौत का पहला मामला सामने आया है।

बृह्नमुंबई महानगर पालिका (बीएमसी) के एक अधिकारी ने कहा कि वायरस के इस स्वरूप से जुलाई के अंतिम सप्ताह में जान गंवाने वाली इस बुजुर्ग महिला को कोविड-रोधी टीके की दोनों खुराकें दी गई थीं। बीएमसी अधिकारियों ने कहा कि महिला की मौत के बाद उसके करीबी संपर्क में रहे कम से कम दो अन्य लोगों में भी वायरस के इस स्वरूप के संक्रमण की पुष्टि हुई है। वायरस का यह स्वरूप बेहद संक्रामक है।

डेल्टा प्लस स्वरूप के सबसे ज्यादा 13 मामले उत्तरी महाराष्ट्र के जलगांव से आए हैं। वहीं रत्नागिरि से 12 और मुंबई से 11 मामले आ चुके हैं। बाकी मामलों अन्य स्थानों के हैं। बता दें कि सबसे अधिक डराने वाली बात यह है कि कोरोना के दोनों टीके लेने के बाद भी अब डेल्टा से लोगों के मरने की खबर है।

गौरतलब है कि अब महाराष्ट्र में कोरोना एक बार फिर से सिर उठा रहा है। महाराष्ट्र में शुक्रवार को 6686 कोरोना के केस मिले और 158 लोगों की मौत हो गई। इससे महाराष्ट्रम में कोरोना के कुल मामले 6382076 और मौतों की संख्या 134730 हो गई।