करियर में ऊंचाइयों को छूते हैं ऐसे लोग, क्‍या आपके हाथ में है ये वाली रेखा?

नई दिल्‍ली: हर व्‍यक्ति अपने करियरमें खूब तरक्‍की करना चाहता है, ताकि वह ढेर सारा पैसा कमा सके और उसके टैलेंट का भी सही इस्‍तेमाल हो सके. हस्तरेखा शास्‍त्रके जरिए यह बहुत आसानी से जाना जा सकता है कि व्‍यक्ति अपने जीवन में किस क्षेत्र में और कितनी तरक्‍की करेगा. इसके लिए हथेली में सूर्य रेखाऔर गुरु पर्वत की अच्‍छी स्थिति होना बहुत जरूरी होता है. ये दोनों ही जातक की जॉब या बिजनेस में सफलता-विफलता के बारे में बताते हैं.

तर्जनी उंगली के नीचे के उठे हुए हिस्से को गुरु पर्वत कहते हैं. यह पर्वत जितना ज्‍यादा उभरा हुआ रहता है, उतना ही अच्‍छा होता है. इस पर बने शुभ निशान व्‍यक्ति को खूब सफलता दिलाते हैं. जैसे – यदि गुरु पर्वत पर तारे का या त्रिभुज का निशान हो तो व्‍यक्ति को ऊंचा पद मिलता है. साथ ही वह खूब मान-सम्‍मान भी पाता है. वहीं गुरु पर्वत पर एक से ज्‍यादा रेखाओं का होना भी व्‍यक्ति को अच्‍छी पोस्‍ट दिलाता है.

रिंग फिंगर यानी की हाथ की तीसरी सबसे बड़ी उंगली के नीचे एक खड़ी लाइन होती है, उसे सूर्य रेखा कहते हैं. यदि हाथ में सूर्य रेखा की स्थिति अच्‍छी हो तो जातक को जॉब हो या बिजनेस दोनों में किस्‍मत का अच्‍छा साथ मिलता है. इसके लिए सूर्य रेखा का लंबा और स्‍पष्‍ट होना जरूरी होता है. जिस जातक के हाथ में बड़ी सूर्य रेखा हो उसे करियर के साथ-साथ सामाजिक क्षेत्र में भी बहुत सफलता मिलती है. ऐसे लोग समाज में भी बड़ा पद पाते हैं. यदि गुरु पर्वत पर शुभ निशान होने के साथ-साथ सूर्य रेखा भी स्पष्ट हो और भाग्यरेखा की लंबाई भी ज्यादा हो तो ऐसे लोग कम उम्र में ही सफल हो जाते हैं.