ओलंपिक में प्रिया मलिक ने गाडा लठ, देश के लिये जीता पहला स्वर्ण पदक

नई दिल्ली: भारतीय रेसलर प्रिया मलिक ने इंटरनेशनल लेवल भारत का नाम रोशन किया है. उन्होंने हंगरी में आयोजित वर्ल्ड रेसलिंग चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल पर कब्जा जमाया.

मीराबाई के बाद प्रिया ने दिखाया दम
एक दिन पहले भारत की एक और बेटी मीराबाई चानू ने टोक्यो ओलंपिक के वेटलिफ्टिंग इवेंट में सिल्वर मेडल जीता और हर हिंदुस्तानियों का सिर गर्व से ऊंचा कर दिया. अब प्रिया मलिक रेसलिंग में अपना दम दिखाया है.

इस स्पोर्ट्स स्कूल से हासिल की ट्रेनिंग
प्रिया मलिक हरियाणा के जींद जिले की निवाली हैं. उन्होंने चौधरी भरत सिंह मेमोरियल खेल स्कूल निडानी की स्टूडेंट हैं. प्रिया के पिता जयभगवान निडानी इंडियन आर्मी से रिटायर हो चुके हैं.

कोच अंशु ने दिया प्रिया का साथ
प्रिया मलिक की कामयाबी में उनके कोच अंशु मलिक का काफी बड़ा रोल रहा है. प्रिया ने साल 2020 में हुए नेशनल स्कूल गेम्स में गोल्ड जीता था. इसके अलावा पिछले साल पटना में हुई राष्ट्रीय कैडेट कुश्ती प्रतियोगिता में भी स्वर्ण पदक जीता. उनका सपना है कि वो एक दिन ओलंपिक (Olympics) में भारत को रिप्रजेंट करें.