उद्धव सरकार ने बताया अगर राज्य में आई ऐसी परेशानी तो फिर लगेगा लॉकडाउन

मुंबई। महाराष्ट्र में अब कोरोना संक्रमण की रफ्तार काफी हद तक काबू में आ गई है। रोजाना सामने आने नए मामलों में भी गिरावट देखने को मिल रही है। इस बीच उद्धव सरकार ने राज्य में जारी पाबंदियों में भी छूट दी है। ऐसे में प्रदेश में जारी ढील के बीच स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे का बड़ा बयान सामने आया है। टोपे के मुताबिक अगर मेडिकल ऑक्सीजन की जरूरत 700 मीट्रिक टन से अधिक हो जाती है तो राज्य सरकार संपूर्ण लॉकडाउन फिर से लागू करेगी।

महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने बुधवार को बताया कि अगर मेडिकल ऑक्सीजन की जरूरत 700 मीट्रिक टन से ज्यादा हो जाती है तो सरकार फिर से लॉकडाउन लागू करेगी। इसके अलावा उन्होंने बताया कि सरकार ने नए नियमों और छूट का एक सेट भी जारी किया, जो 15 अगस्त से लागू होगा। टोपे ने बताया कि रेस्तरां और ढाबे 15 अगस्त के बाद रात 10 बजे तक चल सकते हैं। इसने मॉल को भी खुले रहने की अनुमति दी, लेकिन एक शर्त के साथ कि केवल टीकाकरण वाले लोगों को ही मॉल में प्रवेश करने की अनुमति होगी।

मल्टीप्लेक्स और सिनेमा हॉल बंद

वहीं मल्टीप्लेक्स और सिनेमा हॉल अगली सूचना तक बंद रहेंगे। दुकानों को भी रात 10 बजे तक खुले रहने की अनुमति होगी। राज्य सरकार ने स्पष्ट किया कि इन व्यावसायिक प्रतिष्ठानों के सभी कर्मचारियों को पूरी तरह से टीकाकरण करना होगा। जिम और स्पा को भी संचालित करने की अनुमति है, लेकिन 50% क्षमता के साथ। मंत्री ने कहा कि निजी ऑफिस पूरे दिन पूर्ण टीकाकरण वाले कर्मचारियों के साथ काम कर सकते हैं।

शादियों में मेहमानों की सीमा बढ़ी

महाराष्ट्र ने शादियों पर लगी सीमा भी हटा ली है और अब खुले लॉन में शादी होने पर 200 मेहमानों और बंद इलाके में शादी होने पर 100 मेहमानों को अनुमति दी जाएगी। महाराष्ट्र सरकार ने कहा कि अगले आदेश तक पूजा स्थल बंद रहेंगे। टोपे ने कहा कि उच्च शिक्षा के स्कूलों, कॉलेजों और संस्थानों को फिर से खोलने पर फैसला लेने के लिए टास्क फोर्स का गठन किया गया है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री इस मुद्दे पर टास्क फोर्स के साथ बैठक करेंगे। टोपे ने कहा कि टास्क फोर्स ने स्कूलों के खुलने पर आशंका व्यक्त की है, क्योंकि छात्रों को अभी तक पूरी तरह से टीका नहीं लगाया गया है।