इन राशि वालों पर शनि की टेढ़ी नजर, सावन के पहले शनिवार को जरूर करें ये काम

नई दिल्ली: सनातन धर्म में सावन को बहुत महत्वपूर्ण माना जाता है. विशेषकर भगवान शिव के करोड़ों भक्त साल भर इस महीने का इंतजार करते हैं. माना जाता है कि इस महीने सच्चे मन से भगवान भोले शंकर की आराधना करने से सभी तरह के दोषों से मुक्ति मिल जाती है और व्यक्ति को जीवन खुशियों से भर जाता है. इस महीने में विधि- विधान से भगवान शिव की पूजा- अर्चना करने पर खास ध्यान दिया जाता है.

इन राशि वालों पर शनि की टेढ़ी नजर
ज्योतिष शास्त्र के मुताबिक इस समय पांच राशि वालों पर शनिदेव का अशुभ प्रभाव चल रहा है. इनमें मिथुन, तुला, कुंभ, धनु और मकर राशि शामिल हैं. इनमें मिथुन और तुला राशि पर शनि की ढैय्या चल रही है. वहीं मकर, कुंभ, धनु राशि पर शनि की साढ़े साती चल रही है. सीधे शब्दों में कहें तो इन 5 राशि वालों पर इस समय शनि की टेढ़ी नजर है. ऐसे में इनके लिए सावन में भोलेनाथ का अधिक से अधिक ध्यान करना जरूरी है.

शनिवार को सच्चे मन से भोले को करें याद
शनि की साढ़े साती और ढैय्या की वजह से व्यक्ति का जीवन बुरी तरह से प्रभावित हो जाता है. ऐसे में अगर हम सावन के शनिवार को सच्चे मन से भोलेनाथ के साथ शनिदेव की भी पूजा-अर्चना करें तो शनि की साढ़े साती और ढैय्या का अशुभ प्रभाव खत्म हो जाता है.

शनिदेव का प्रकोप खत्म करने के लिए करें ये उपाय
सावन के पूरे महीने में रोजाना शिवलिंग पर जल अर्पित करें. शनिवार को भी शिवलिंग पर जल चढ़ाएं और अंतर्मन से भोले शंकर की स्तुति करें. लिंगाष्टकम स्तोत्र का पाठ करने से भगवान शंकर की विशेष कृपा प्राप्त होती है. भगवान शंकर की कृपा हो जाने से शनि दोषों से पूरी तरह मुक्ति मिल जाती है.

(नोट: इस लेख में दी गई सूचनाएं सामान्य जानकारी और मान्यताओं पर आधारित हैं. )