अश्लील तस्वीरें और वीडियो से 82 महिलाओं को बनाया शिकार, तरकीबे जानकर होंगे हैरान

गाजियाबाद। यूपी के गाजियाबाद से एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है. जहां एक युवक ने अपने मरे हुए दादा के दस्तावेज देकर उनके नाम पर एक सिम कार्ड खरीदा और फिर 80 से ज्यादा महिलाओं के साथ उसने अश्लील हरकतें और छेड़छाड़ की.

इस मामले का खुलासा तब हुआ, जब गाज़ियाबाद के इंदिरापुरम में रहने वाली 26 वर्षीय एक महिला थाने पहुंची और पुलिस को आपबीती सुनाई. महिला ने थाने में तहरीर देते हुए बताया कि एक युवक उसे अश्लील संदेश भेजता है, जिनके साथ अश्लील तस्वीरें भी होती है. महिला के मुताबिक आरोपी उसे वीडियो कॉल करके अश्लील हरकतें करता था.

[Image: सिम कार्ड]

3/8
पुलिस ने महिला की शिकायत को गंभीरता से लेते हुए यह मामला गाज़ियाबाद पुलिस के साइबर सेल को ट्रांसफर कर दिया. साइबर सेल ने इस केस में छानबीन शुरू कर दी. जब पुलिस की तफ्तीश आगे बढ़ी तो पता चला कि अश्लील कॉल करने वाला आरोपी जो सिम कार्ड इस्तेमाल कर रहा है. वो एक मरे हुए आदमी के नाम पर खरीदा गया है.

पुलिस को आरोपी युवक का ठिकाना पता चला तो तुरंत वहां दबिश दी गई. पहले आरोपी युवक के परिवार से पूछताछ की गई और फिर पुलिस ने आरोपी युवक को गिरफ्तार कर लिया. आरोपी की पहचान सोनू चौधरी के रूप में हुई है. उसकी उम्र 22 साल है. पुलिस ने जब आरोपी सोनू के मोबाइल फोन की जांच की तो पता चला कि उसके मोबाइल में एक नहीं दो नहीं बल्कि 82 महिलाओं के नंबर सेव थे.

पुलिस को आगे की जांच में पता चला कि आरोपी युवक इन सभी महिलाओं को अश्लील मैसेज किया करता था. पूछताछ में आरोपी सोनू ने बताया कि पांच साल पहले उसके दादा की मौत हो गई थी. कोरोना की दूसरी लहर के दौरान वह इंदिरापुरम इलाके में नारियल बेचने का काम करता था. उसने अपने काम को बढ़ाने के लिए पूरे इंदिरापुरम में स्टीकर लगाए थे.

उसी स्टीकर से आरोपी का नंबर लेकर शिकायत करने वाली महिला ने भी फोन पर सोनू से नारियल पानी मंगवाया था. दूसरी लहर के चलते महिला के पिता बीमार थे. उनको डॉक्टर ने नारियल पानी पिलाने के लिए कहा था. महिला की कॉल आने के बाद आरोपी सोनू ने उसे पलटकर फोन किया और उसका नाम पूछा. इसके कुछ दिन बाद से ही वो महिला को अश्लील मैसेज भेजने लगा. यही नहीं उसने महिला को आपत्तिजनक वीडियो कॉल भी किए.

पुलिस के मुताबिक, सोनू महिलाओं को ब्लैकमेल करने के लिए वीडियो कॉल के दौरान वो स्क्रीनशॉट भी ले लिया करता था. फिर वो उन तस्वीरों को महिलाओं को भेजकर उन्हें वायरल करने की धमकी देता था और उन्हें ब्लैकमेल करता था. पुलिस के मुताबिक आरोपी सोनू अब तक कई महिलाओं को ब्लैकमेल कर पैसा वसूल चुका है.

हालांकि अभी तक उक्त पीड़ित महिला के अलावा कोई अन्य महिला आरोपी सोनू के खिलाफ शिकायत लेकर पुलिस के पास नहीं आई है. पुलिस ने सोनू के खिलाफ आईटी एक्ट और आईपीसी की संबंधित धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है. पुलिस का कहना है कि आरोपी की गिरफ्तारी का समाचार जब लोगों तक जाएगा, तब हो सकता है कि उसकी शिकार बनी महिलाएं सामने आएं.