अभी अभीः समाजवादी पार्टी के नेता को बीच बाजार दौडा-दौडाकर मारी कई गोलियां, मौके पर मौत, दहशत में लोग

कानपुर। उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था पूरी तरह से ध्वस्त हो चुकी है। गोरखपुर, लखनऊ, गोंडा के बाद अब कानपुर जिले में बदमाशों ने बड़ी वारदात को अंजाम दिया है। बदमाशों ने यहां समाजवादी युवा जनसभा के उपाध्यक्ष हर्ष यादव को बीच बाजार दौड़ाकर गोली मार दी। वहीं, बीच बाजार हुई ताबड़तोड़ फायरिंग से सब्जी मंडी में दहशत फैल गई। वारदात को अंजाम देने के बाद बदमाश मौका-ए-वारदात से फरार हो गए।

स्थानीय लोगों ने घटना की सूचना बर्रा पुलिस को दी और खून से लथपथ सड़क पर गिरे सपा नेता को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया। जहां डॉक्टरों ने सपा नेता हर्ष यादव को मृत घोषित कर दिया। वहीं, वारदात की सूचना पर पहुंची पुलिस ने घटनास्थल के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों के फुटेज खंगाली और मामले की जांच में जुट गई। हालांकि, इलाके में भारी तनाव को देखते हुए बड़ी संख्या में पुलिस फोर्स तैनात कर दी गई है।

यह वारदात बर्रा थाना क्षेत्र में स्थित बर्रा 2 छोटी सब्जी मंडी की है। बर्रा दामोदरनगर निवासी महेंद्र वीर प्रताप सिंह का इकलौता बेटा हर्ष यादव (20) विधि का छात्र था। करीब छह माह पूर्व उसे युवजन सभा का जिला उपाध्यक्ष मनोनीत किया गया था। परिजनों के मुताबिक, शुक्रवार देर शाम वह अपनी आई-10 कार से दो दोस्तों के साथ कुछ घरेलू सामान लेने बर्रा दो सब्जी मंडी गया था। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक, हरिओम दुग्ध डेयरी के पास सफेद रंग की सफारी से आए हत्यारोपी ने पिस्टल से फायरिंग कर हर्ष की कार का अगला पहिया पंचर कर दिया।

इसके बाद बदमाशों ने दो फायर उसकी कार पर किए। इससे दहशत में आए उसके दोनों दोस्त कार से उतरकर सब्जी मंडी की ओर भाग निकले। हर्ष जैसे ही कार से उतरा हत्यारोपी ने उस पर तीन राउंड फायर झोंक दिए। सिर, पेट और माथे पर गोली लगते ही हर्ष लहूलुहान होकर गिर गया। हत्यारोपी अपनी कार में सवार होकर संकटमोचन हनुमान मंदिर की ओर फरार हो गया। मौके पर पहुंची फॉरेंसिक विभाग की टीम ने जांच कर साक्ष्य जुटाए हैं। एडीसीपी साउथ डॉ. अनिल कुमार के अनुसार हत्यारोपी की पहचान के प्रयास किए जा रहे हैं। जल्द ही घटना का खुलासा कर दिया जाएगा।

स्थानीय लोगों ने आनन-फानन में मृतक की जान बचाने के लिए स्कूटी पर ही उसे लाद लिया और अस्पताल ले गए। लेकिन, डाक्टरों ने सपा नेता हर्ष को मृत घोषित कर दिया। स्थानीय लोगों की सूचना पर बर्रा थाना समेत कई थानों का फोर्स भी मौके पर पहुंचा और आसपास के लगे सीसीटीवी कैमरों को खंगालना शुरू कर दिया गया है।