भीषण धमाके से दहल उठी शामली, इलाके में हडकंप, 1 के उडे चिथडे, 3 गंभीर

शामली। नगर के मोहल्ला काजीवाड़ा के एक मकान में जारदार धमाका हो गया। इस हादसे में एक महिला की मौके पर ही मलबे में दबकर मौत हो गई। जबकि तीन की हालत गंभीर बताई जा रही है। इसमें एक महिला भी है। जोरदार धमाके की आवाज इतनी तेज थी कि आसपास का इलाका भी दहल गया। मौके पर लोगों के साथ- साथ पुलिस की टीम भी पहुंच गई और घायलों को अस्‍पताल पहुंचाया। पुलिस जांच में जुटी है कि आखिर किस वजह से धमाका हुआ है। कुछ का मानना है कि सिलेंडर फटने से हादसा हुआ है। लेकिन वहीं पटाखा भी मकान से बरामद हुआ है।

काजीवाडा में हाजी शौकत अपने बेटे मनव्वर, रियासत व महबूब के परिवार के साथ रहते हैं। धमाका होने के कारण घर में भारी नुकसान हुआ है। हादसे के बाद लोगों की मौके पर भीड़ एकत्रित हो गई थी। दहशत फैल गई। धमाके के दौरान मनव्वर की पत्नी खुशनुमा, भाई सवरेज व सास 70 वर्षीय नूरजहां घायल हुए है। पड़ोसियों की मदद से तीनों घायलों को निजी अस्पताल में ले जाया गया। वहां से तीनों को रेफर कर दिया। बताया जा रहा है की खुशनुमा की मौत हो गई। न ही महिला का शव पुलिस को सौंपा गया है। अपर पुलिस अधीक्षक ओपी सिंह ने मौका मुआयना किया। मकान मालिक की पुत्र वधु की मौत हुई है। बेटा तथा बेटे की सास समेत तीन को घायल होना बताया जा रहा है। अभी यह भी स्पष्ट नही किया गया कि धमाका सिलेंडर फटने से हुआ है या घर में रखें पटाखों के कारण।

पुलिस का कहना है कि धमाका सिलेंडर फटने से हुआ है या फिर अन्य किसी कारण से, इस बारे में जांच की जा रही है। उधर, बताया जा रहा है कि घर में पटाखों का भारी स्टॉक रखा हुआ था। हाजी शौकत व उनके बेटे मनववर के नाम पटाखा बनाने का लाइसेंस है और पटाखो को बनाने का कार्य झिंझाना थाना क्षेत्र के गांव टपराना में किया जाता है। परिवार के लोग घर पर नहीं है।