अभी-अभीः देश दो राज्यों में फिर लगाया गया लॉकडाउन, आज रात से ही…

कोलकाताः देश में कोविड-19 महामारी की तीसरी लहर के बारे में विशेषज्ञों द्वारा आशंका जताए जाने के बीच पश्चिम बंगाल सरकार ने जारी लॉकडाउन बुधवार को 30 जुलाई तक के लिए बढ़ा दिया। हालांकि, इस दौरान कुछ छूटों की भी घोषणा की गयी है। एक सरकारी आदेश में कहा गया है कि मेट्रो रेलवे सेवाओं को 50 प्रतिशत बैठने की क्षमता के साथ फिर से शुरू करने की अनुमति दी गयी है, लेकिन यह अनुमति सप्ताहांत के लिए नहीं होगी। लोकल ट्रेन सेवाएं आम लोगों के लिए निलंबित रहेंगी। यह प्रतिबंध 16 मई को लगाए गए थे और आखिरी बार उन्हें 15 जुलाई तक के लिए बढ़ाया गया था।

सरकारी आदेश में कहा गया है कि सार्वजनिक बसों, टैक्सियों, ऑटोरिक्शा को 50 प्रतिशत क्षमता के साथ संचालित करने की अनुमति दी गयी है। इसमें कहा गया है कि सरकारी और निजी दोनों तरह के कार्यालयों को भी आधे कर्मचारियों के साथ काम करने की अनुमति दी गयी है। जिम और ब्यूटी पार्लर भी सुबह 11 बजे से शाम छह बजे तक 50 प्रतिशत क्षमता के साथ काम कर सकते हैं। शादी-विवाह जैसे सामाजिक समारोहों में सिर्फ 50 लोगों को ही शामिल होने की अनुमति होगी। वहीं सब्जी बाजार सुबह छह बजे से दोपहर एक बजे तक खुले रह सकेंगे।

वहीं केरल में भी कोरोना और जीका वायरस के बढ़ते खतरे को देखते हुए 17 और 18 जुलाई को संपूर्ण लॉकडाउन का ऐलान किया गया है। राज्‍य में जिस तरह से वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्‍या बढ़ रही है, उसे देखते हुए राज्‍य सरकार बहुत जल्‍द नई गाइडलाइन जारी कर सकती है।

केरल में कोरोना और जीका वायरस के खतरे को देखते हुए बैंक में अब केवल पांच दिन ही कामकाज की इजाजत दी गई है। इसके साथ ही संपूर्ण लॉकडाउन के दौरान सभी बैंकों को दो दिन बंद रखने का आदेश जारी किया गया है। केरल में कोरोना के साथ ही जीका वायरस के मरीज भी बढ़ गए हैं। मंगलवार को राज्‍य में तीन और नए केस सामने आने के बाद जीका वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्‍या अब 18 हो गई है। बता दें कि मंगलवार को जो तीन नए मामले सामने आए हैं उनमें एक बच्‍चा भी शामिल है।