अभी अभीः देश के इन राज्यों में भारी बवाल, तैनात किये गये 4 हजार कमांडो

सीमा विवाद को लेकर हिंसक झड़प के बाद अब असम सरकार सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाएंगी। असम और मिजोरम के बीच सीमा विवाद को लेकर बीते सोमवार को हिंसा हुई। जिसमें 6 पुलिस जवानों समेत कई घायल हुए। ये झड़प असम पुलिस और मिजोरम के स्थानीय नागरिकों के बीच हुई थी।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, एक तरफ असम सरकार सीमा विवाद को लेकर सुप्रीम कोर्ट जाएगी, तो वहीं दूसरी तरफ असम सीएम हिमंत बिस्वा सरमा ने साफ संदेश दिया है कि राज्य की जमीन नहीं लेने दूंगा। एक इंच जमीन भी नहीं दूंगा। उन्होंने कहा कि अगर संसद इसको लेकर कोई कानून पास कर देती है, तो मुझे कोई आपत्ति नहीं होगी। लेकिन अगर संवैधानिक तरीके से इसका हल नहीं निकलता, तो मैं एक इंच जमीन नहीं नहीं दूंगा।

असम सीमा पर 4 हजार कमांडो तैनात

असम सीएम ने कहा कि हिंसा के बाद अब सीमा पर कम से कम 4 हजार कंमाडो को तैनात कर दिया गया है। बीते दिन हिंसा के दौरान आधे घंटे तक फायरिंग होती रही थी। जिसमें 6 जवानों की मौत हो गई। इस घटना के बाद हमने सीमा पर 4 हजार कमांडो को तैनात कर दिया। सीएम ने कहा कि सीमा विवाद आज का नहीं है। ये कई सालों पुराना विवाद है। अब हमारी सरकार इस मुद्दे को लेकर सुप्रीम कोर्ट जाएगी।

असम को एकजुटता दिखानी होगी

सीएम सरमा ने आगे कहा कि मिजोरम के कई बच्चे असम में रह रहे हैं। हम भारत-चीन की सीमा नहीं खड़े हैं। इस हिंसा को लेकर असम पुलिस को मामला दर्ज करना होगा। आखिर हिंसा के दौरान लोगों के पास से हथियार कहां से आए। इसकी तो जांच होनी ही चाहिए। इसके साथ ही ये नागरिक किस देश के थे, ये भी जांच हो। मिजोरम के लोग एक साथ हैं। अब असम को भी एकजुटता दिखानी होगी।