अब ‘जाम’ टकराना हो सकता है मुश्किल! कोई भी शराब खरीदने के लिए देने होंगे ये सर्टिफिकेट

Liquor Rule: अब ‘जाम’ टकराना हो सकता है मुश्किल! कोई भी शराब खरीदने के लिए दिखाने होंगे ये सर्टिफिकेट
अब ‘जाम’ छलकाना मुश्किल हो सकता है. क्योंकि अब शराब खरीदने के लिए आपको खास सर्टिफिकेट दिखाने होंगे. दरअसल, देश में कोरोना कहर को देखते हुए वैक्सीन की रफ्तार बढ़ा दी गई है. अब कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज ले चुके लोग ही सरकारी ठेके से शराब खरीद सकेंगे. तमिलनाडु के नीलगिरी जिले (Nilgiris) में अधिकारियों ने ये नियम लागू कर दिया है. यहां की जिला कलेक्टर दिव्या ने कहा कि यह कदम निवासियों को टीका लगाने के लिए प्रेरित करने के अभियान का हिस्सा है.

तमिलनाडु के निलिगीरी में कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज ले चुके लोग ही सरकारी ठेक से शराब खरीद सकेंगे. नीलगिरी जिले (Nilgiris) में अधिकारियों ने ये नियम लागू कर दिया है. यहां की जिला कलेक्टर दिव्या ने बताया कि यह कदम निवासियों को टीका लगाने के लिए प्रेरित करने के लिए किया गया है.

नीलगिरी के निवासियों को अगर सरकारी ठेके से शराब खरीदनी है तो उन्हें पहले कोरोना वैक्सीन को दोनों डोज का सर्टिफिकेट दिखाना होगा. जिला कलेक्टर दिव्या ने कहा कि जिले की लगभग 97 परसेंट आबादी को पहली या दूसरी बार वैक्सीन की खुराक दी जा चुकी है. यानी लोगों पर इस आदेश का असर जरूर पड़ रहा है.

दरअसल, वैक्सीनेशन को लेकर यहां पर तमाम तरह की अफवाहें और गलत सूचनाएं फैली हैं. जिसे दूर करने के लिए यहां के अधिकारियों ने वैक्सीनेशन को लेकर जागरूकता अभियान भी चलाया. लोगों से अपील की गई कि वो वैक्सीनेशन करवाएं और इस मिशन का हिस्सा बनें. लेकिन लोग अब भी वैक्सीन लेने से दूरी बना रहे हैं.

कलेक्टर दिव्या ने कहा कि हम COVID पोर्टल को अपडेट कर रहे हैं. हमें जानकारी मिली है कि कुछ लोगों ने कहा है कि वे शराब का सेवन करते हैं और वैक्सीन लेने को तैयार नहीं हैं. उन्हें वैक्सीनेटेड करने के लिए यह फैसला लिया गया है कि जिसे भी शराब खरीदनी हो, पहले टीकाकरण का सर्टिफिकेट दिखाए.’ बता दें कि TASMAC आउटलेट्स पर शराब खरीदने के लिए टीकाकरण प्रमाण पत्र के साथ आधार कार्ड भी जमा करना आवश्यक है.

तमिलनाडु का नीलगिरी अपनी प्राकृतिक खूबसूरती के लिए काफी मशहूर है. यहां बड़ी संख्या में टूरिस्ट आते हैं. लॉकडाउन में यहां के टूरिज्म सेक्टर पर काफी बुरा असर पड़ा है. लेकिन अब धीरे धीरे प्रशासन ने टूरिज्म को खोलना शुरू किया है. ये देखा गया है कि इस हफ्ते से टूरिस्ट्स की संख्या में काफी इजाफा हुआ है.