हर साल कुंवारी लड़की से विवाह करता है इस देश का राजा, पत्नियों की संख्या जानकर रह जाएंगे दंग

प्राचीन काल में राजा-महाराजा ही पूरी दुनिया पर राज करते थे. उनके शौक भी बड़े ही अजीबोगरीब किस्म के होते थे. जिनके बारे में अगर आपको पता चले तो यकीनन आप उसे मूर्ख या पागल ही करेंगे. वर्तमान में ज्यादातर देशों में लोकतंत्र स्थापित हो गया और अब जनता अपने देश और राज्य की सरकारों को चुनने के स्वतंत्र हैं. जो जनता के खिलाफ जाने पर जनता द्वारा ही सत्ता से बेदखल की जा सकती हैं. हालांकि दुनिया के कई कुछ देशों में अभी लोकतंत्र स्थापित नहीं हुआ है और यहां आज भी राजा का ही शासन चलता है. ये राजा अपनी सुविधा के मुताबिक कानून बनाते हैं.

आज हम आपको एक ऐसे देश और उसके राजा के बारे में बताने जा रहे हैं जो हर साल कुंवारी लडकी से शादी करता है. जिससे उसके बच्चे और पत्नियों की संख्या इतनी हो गई है जिसे जानकर आप हैरान रह जाएंगे. दरअसल, हम बात कर रहे हैं अफ्रीकी देश स्वाजीलैंड की और यहां के राजा के बारे में. बता दें कि स्वाजीलैंड की आजादी के पचास साल पूरे होने पर यहां के राजा ने साल 2018 में देश का नाम बदलकर द किंगडम ऑफ इस्वातिनी कर दिया. यह देश अफ्रीका महाद्वीप में दक्षिण अफ्रीका से सटा है.

दक्षिण अफ्रीका और मोजैंबिक की सीमाओं से सटे इस देश की यहां के राजा की वजह से अक्सर चर्चा होती रहती है. इस देश में हर साल अगस्त-सितंबर महीने में महारानी की मां के शाही गांव लुदजिजिनी में उम्हलांगा सेरेमनी का आयोजन किया जाता है. इस फेस्टिवल में 10 हजार से ज्यादा कुंवारी लड़कियां और बच्चियां हिस्सा लेती हैं. यहां के राजा के सामने कुंवारी लड़कियां डांस करती हैं. एक रिपोर्ट के मुताबिक, फेस्टिवल में शामिल होने वाली लड़कियों में से राजा हर साल अपनी एक रानी चुनता है. सबसे हैरान करने वाली बात यह है कि ये लड़कियां बिना कपड़ों के ही राजा और उसकी पूरी प्रजा के सामने नाचती हैं.

इस परंपरा का देश की कई युवतियों ने विरोध किया था, तो वहीं कई लड़कियों ने इस परेड में शामिल होने से इंकार कर दिया था. जब राजा को इस बात का पता चला तो उन लड़कियों के परिवारों को भारी जुर्माना देना पड़ा. बता दें कि इस देश के राजा पर आरोप लगाए जाते रहे हैं कि वो खुद बेहद शानो-शौकत से रहते हैं, तो वहां की बड़ी आबादी बेहद गरीबी में जीवन यापन करती है. साल 2015 में भारत अफ्रीका शिखर सम्मेलन’ में शामिल होने के लिए राजा मस्वाती तृतीय भारत भी आ चुके हैं. राजा मस्वाती तृतीय अपने साथ 15 पत्नियां, बच्चे और 100 नौकरों को साथ लेकर आए थे. उनके लिए दिल्ली के एक फाइव स्टार होटल में 200 कमरे बुक हुए थे जिसमें वह ठहरे थे.