ये है दुनिया का अनोखा गांव, जहां हर दीवार पर बनी हुई है मर्दों के प्राइवेट पार्ट की पेंटिंग, देखें तस्वीरें

इस विश्व में में आपने कई खूबसूरत और अजीबोगरीब जगह देखी होगी. यह दर्शनीय स्थल कुछ तो प्रकृति की देन है पर कुछ हम इंसानों ने अपनी अजीबो-गरीब संस्कृति और इच्छाओं के कारण बना दिए हैं. आज हम आपको बताने जा रहे हैं एक ऐसे गांव के बारे में जहां की हर दीवार पर पुरुषों

इस विश्व में में आपने कई खूबसूरत और अजीबोगरीब जगह देखी होगी. यह दर्शनीय स्थल कुछ तो प्रकृति की देन है पर कुछ हम इंसानों ने अपनी अजीबो-गरीब संस्कृति और इच्छाओं के कारण बना दिए हैं. आज हम आपको बताने जा रहे हैं एक ऐसे गांव के बारे में जहां की हर दीवार पर पुरुषों के प्राइवेट पार्ट की पेंटिंग बनी हुई है. भूटान के गांव की यह अनोखी परंपरा पूरे विश्व में प्रसिद्ध है.

यह संस्कृति भूटान के थिंपू शहर के पुनाखा गांव की है. इस गांव के रीति रिवाज के अनुसार अगर कोई कपल संतों से मिलने भी जाता है तो उन्हें आशीर्वाद के तौर पर लकड़ी से बना हुआ पुरुष का प्राइवेट पार्ट मिलता है. इस परंपरा की शुरुआत तिब्बत के गुरुद्रुक्‍पा कुन्‍ले ने 15 शताब्दी में की थी. गांव वाले बताते हैं की पीनिश आर्ट के नाम से जाने वाली इस परंपरा की शुरुआत शिक्षा के प्रचार-प्रसार के लिए हुई थी. सोशल मीडिया से मिली इस खबर से पूरा विश्व हैरान हो गया है कि ऐसी भी परंपराएं होती.

दरअसल गुरु द्रुकपा को एक लड़की से प्रेम हो गया था. गुरु इस लड़की की सुंदरता पर मोहित होकर उसके साथ शारीरिक संबंध भी बना बैठे थे जिससे यह लड़की प्रेग्नेंट हो गई थी. तब लकड़ी के एक बड़े प्राइवेट पार्ट की मूर्ति बनाकर उसका नाम उर्वरता मठ रख दिया गया था. इस मठ को देखने के लिए दुनिया भर से हर साल लाखों सैलानी आते हैं जो यहां पर बनी पेंटिंग के साथ सेल्फी लेकर अपनी सोशल साइट पर अपलोड करते रहते हैं.