मेरी पत्नी के किसी लड़के से नाजायज संबंध, अक्सर रात में…

मनियारी (मुजफ्फरपुर)। जब दिल न मिले तो पति-पत्नी का बंधन भी कैद की तरह हो जाता है। यदि किसी ने इसे तोड़ने का ठान लिया तो इसके बाद कोर्ट का आदेश, इज्जत की दुहाई और पंचों का फैसला काम नहीं करता है। इस हालत में बल का प्रयोग करने या कानून के तंत्र से दबाव बनाने के बाद कीचड़ ही उछलता है। जिला अंतर्गत मनियारी के एक परिवार के साथ इन दिनों कुछ ऐसा ही हो रहा है। पहले बहू ने पति समेत पूरे परिवार पर जिंदा जलाने की कोशिश करने का आरोप लगाया तो अब पति ने भी उसके किसी और से नाजायज संबंध होने तथा रात भर फोन से बात करने का आरोप लगाया है। इस तरह घर की इज्जत अब सड़क पर आ गई है। दोनों पक्ष के लोगों को थाने के चक्कर लगाने पड़ रहे हैं।

दरअसल जब शादी के दो वर्ष बाद भी पति-पत्नी में मेल नहीं हुआ तो मामला हाईकोर्ट तक पहुंच गया। वहां से आदेश के बाद युवती ससुराल तो पहुंची, लेकिन पति को अक्षम करार देते हुए कोर्ट के आदेश की अवहेलना कर अपने मायके लौट गई। इस मामले में विवाहिता के ससुर ने मनियारी थाने में लिखित शिकायत की। बताया कि वे हाईकोर्ट के आदेशानुसार पुत्र को भेजकर महुआ पुलिस अधीक्षक व थानाध्यक्ष महुआ की अभिरक्षा में मनियारी पुलिस के साथ बहू की विदाई कराकर 20 जुलाई को लाए। वह यहां आ तो गई, लेकिन हमारे पड़ोसी व उनके पुत्र से मोबाइल पर बातचीत करती रही। बहू अपना कमरा बंद व बत्ती आफ कर बात करने लगी।

काफी समय बीतने पर अनहोनी की आशंका जताते हुए सरपंच व मुखिया प्रतिनिधि को वस्तुस्थिति से अवगत कराया। इधर, युवक ने पत्नी पर किसी अन्य लड़के से अवैध संबंध का आरोप लगाते हुए बताया कि अक्सर रात्रि में घंटों किसी से बात करते हुए देखा। इसको लेकर विवाद हुआ। शुक्रवार को नवविवाहिता को मनियारी थाने से अपने पिता के साथ उनके घर महुआ भेज दिया गया। मनियारी थानाध्यक्ष अजय कुमार पासवान ने उक्त मामले में समझौता पत्र कोर्ट को सौंपने की बात कही।दोनों तरफ से तिथि निर्धारित कर इस मामले के निष्पादन पर सहमति बनी है।