महिला का सनसनीखेज खुलासा: डॉक्टर ने बर्बाद कर दिया मेरा जीवन, अब संबंध बनाने का नहीं करता मन

कानपुर: कानपुर महानगर से डॉक्टर की एक लापरवाही का सनसनीखेज मामला सामने आया है। डॉक्टर की इस लापरवाही ने एक महिला की हंसती-खेलती जिंदगी तबाह कर दी। जी हां, और इससे उसके दांपत्य जीवन पर काफी नकारात्मक प्रभाव पड़ा है। अब पति-पत्नी मानसिक परेशान रहते हैं और इस उम्मीद में हैं कि डॉक्टर के खिलाफ कार्यवाही की जाए।

दरअसल कानपुर में एक महिला ने राज्य महिला आयोग से एक गुहार लगाई है। उसका आरोप है कि एक महिला डॉक्टर ने उसे पति से शारीरिक संबंध बनाने लायक नहीं छोड़ा है। महिला का कहना है कि गर्भपात के दौरान डॉक्टर ने उसका एक अंग काट दिया। इस कारण अब उसकी शारीरिक संबंध बनाने की इच्छा नहीं होती है। इससे दांपत्य जीवन खराब हो रहा है।

दरअसल कानपुर के घाटमपुर क्षेत्र की रहने वाली महिला ने 19 अक्टूबर 2018 को आयोग को पत्र लिखकर एक शिकायत की थी। इस शिकायत में उसने कहा था कि वो गर्भवती थी और अपने मायके में रह रही थी। पिछले साल 26 जनवरी उसे यशोदा नगर स्थित एक अस्पताल में दिखाया गया जहां डॉक्टर ने उसे करारा झटका देते हुए बताया कि उसके गर्भ में शिशु की मौत हो गई है।

डॉक्टर ने बोला की इसलिए अब उसे यानि महिला को गर्भपात करना पड़ेगा। आरोप है कि इस डॉक्टर ने गर्भपात के दौरान बिना वजह उसका एक अंग काट दिया जिससे उसे पति से शारीरिक संबंध बनाने की अनिच्छा होने लगी। महिला ने आरोप लगाया है कि डॉक्टर की लापरवाही से उसका वैवाहिक जीवन बर्बाद हो गया है। बता दें कि आयोग ने जिलाधिकारी को पत्र भेजकर मामले की जांच का आदेश दिया है। इस मामले में कानपुर मेडिकल कॉलेज यानि जीएसवीएम के स्त्री रोग विभाग की पूर्व विभागाध्यक्ष ने भी अपने विचार रखे हैं।

उनका कहना है कि अभी तक ऐसा कोई मामला सामने नहीं आया है। बिना यह जाने कि कौन सा अंग डैमेज हुआ या काटा गया, कुछ भी नहीं कहा जा सकता है। हालांकि यह आरोप अविश्वसनीय है। ऐसे मामलों की जांच के बाद किसी नतीजे पर पहुंचा जा सकता है।