मजाक-मजाक में पति ने करवाया बेटे का DNA टेस्ट, रिजल्ट देख उड़ गए शख्स के होश

आज के समय में माता-पिता बनने के कई गैर-प्राकृतिक तरीके मौजूद हैं. इनमें आईवीएफ (IVF) से लेकर सरोगेसी (Surrogacy) तक शामिल है. जो लोग किसी कारण से प्राकृतिक तरीके से कंसीव (Natural Way To Conceive Child) नहीं कर पाते, वो इन तरीकों से गर्भ धारण कर माता-पिता बनने का सुख उठाते हैं. इसमें आईवीएफ के जरिये माता-पिता बनने का तरीका सबसे ज्यादा मशहूर हुआ. इस तरीके में माता-पिता के एग्स को कृषिम तरीके से फ्यूज कर गर्भ में डाला जाता है. जिसके जरिये गर्भधारण किया जाता है.

IVF द्वारा गर्भ धारण काफी मशहूर हो चुका है. लेकिन इसमें धोखे के मामले भी कम सामने नहीं आते. ऐसे ही धोखे का शिकार हुए अमेरिका के उटाह में रहने वाले डोना और वन्नेर जॉनसन (Donna and Vanner Johnson) दोनों एक बच्चे के पेरेंट्स थे और आईवीएफ के जरिये उन्होंने दूसरी बार गर्भधारण किया था. इसमें भी वो बेटे के पेरेंट्स बने. कपल अपने दोनों बेटों के साथ हंसी-ख़ुशी जिंदगी बिता रहा था कि तभी उनके एक मजाक में किये फैसले ने उनकी जिंदगी बदल कर रख दी. उन्होंने मजाक में अपने बेटे का डीएनए टेस्ट किया था. इसमें जो राज खुला उसने उनकी जिनगी में आग लगा दी.

रिपोर्ट में सामने आई असलियत
डोना और वन्नेर ने अपने 12 साल के बेटे का मजाक में डीएनए टेस्ट करवाया. उसका जन्म आईवीएफ के जरिये हुआ था. लेकिन जब रिजल्ट सामने आया तो पता चला कि वो बेटा किसी और का था. रिपोर्ट देखने के बाद कपल ने DNA क्लिनिक पर केस दर्ज कर दिया. सामने आया कि क्लिनिक ने एग्स मिक्स कर दिया था. इस वजह से डोना के एग्स किसी और मर्द के स्पर्म से मिक्स हो गए.

टूट गया पिता का दिल
ABC4.com से बात करते हुए वन्नेर ने बताया, कि जब उसने DNA टेस्ट की रिपोर्ट देखी, तो हैरान रह गया. उसमें मां के नाम में डोना का नाम और पिता के नाम में अननोन लिखा था. ये देख वन्नेर ने हंगामा करना शुरू किया. जब इसकी जांच की गई तो पता चला कि एग फ्यूजन में मिस्टेक हो गई और डोना के एग किसी और के स्पर्म से फ्यूज हो गए. इस सच से दोनों का दिल टूट गया है. जिस बेटे को 12 साल अपना समझते रहे, वो किसी और का निकला. अब उन्होंने मामले को लेकर कोर्ट का दरवाजा ठकठकाया है.