मंदिर के बाहर महिला को पकडकर पुजारी बरसाने लगे थप्पड, एक के बाद एक…देंखे तस्वीरें

दरभंगा। बिहार के दरभंगा (darbhanga) में एक पुजारी ने मंदिर में पूजा करने आई महिला को बाल पकड़कर पीटा. इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद मंदिर कमेटी ने पुजारी के खिलाफ एक्शन लिया है. मंदिर कमेटी द्वारा प्रकरण की जांच करने की बात कही जा रही है. तब तक के लिए पुजारी को मंदिर कार्यों से हटा दिया गया है.

दरभंगा के राज परिसर में स्थित प्रसिद्ध मां श्यामा माई मंदिर की दहलीज पर मंदिर पुजारी ने एक महिला की बाल पकड़कर पिटाई कर दी. पुजारी के द्वारा की गई पिटाई का वीडियो किसी ने बना लिया, जो अब तेजी से सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है.

पुजारी की करतूत जैसे ही सोशल मीडिया पर वायरल हुई, तो मंदिर प्रबंधन ने पिटाई करने वाले पुजारी को तत्काल काम से अलग कर दिया है. हलांकि महिला की तरफ से अभी कोई शिकायत सामने नहीं आई है और न ही महिला की अब तक पहचान हो पाई है.

बताया जा रहा है कि घटना दो दिन पहले की है. महिला मंदिर के अंदर जाकर मां श्यामा माई की पूजा करने की जिद पर अड़ी थी, लेकिन कोविड गाइड लाइन के कारण मंदिर के द्वार आम लोगों के लिए बंद थे. महिला मंदिर के बंद द्वार खोलने की जिद पर अड़ी थी. इसी बात को लेकर विवाद हो गया.

इस विवाद के दौरान गुस्साए मंदिर के पुजारी ने महिला के बाल पकड़ लिए और उसकी पिटाई कर दी. वीडियो की पुष्टि करते हुए मंदिर के प्रबंधक चौधरी हेमचन्द्र रॉय ने कहा कि किसी भी महिला के साथ ऐसा सलूक करना उचित नहीं है. मंदिर पुजारी से स्पष्टीकरण मांगा गया है. इस मामले में जांच की जा रही है.

हालांकि इस दौरान मंदिर प्रबंधक महिला को विक्षिप्त बताकर पुजारी को कहीं न कहीं बचाने की स्थिति में दिखाई दिए, लेकिन सवाल यह भी है कि अगर महिला विक्षिप्त है, तो क्या किसी महिला के साथ ऐसा वर्ताव सही था?