पेड़ों के साथ शारीरिक संबंध बनाती है ये 2 महिलाएं, जड़ों की मिट्टी और पत्तों संग यूं करती हैं रोमांस!

प्यार एक ऐसी फीलिंग है जो छिपाए नहीं छिपती. प्यार कभी भी किसी से भो हो सकता है और इस फीलिंग से दुनिया खूबसूरत दिखने लगती है. प्यार की कोई सीमा कोई बाउंड्री नहीं होती. ऐसे ही एक लिमिटलेस प्यार गिरफ्त में पड़ी है अमेरिका की रहने वाली एनी स्प्रिंकल और बेथ स्टीफंस. दोनों को 2004 में अहसास हुआ कि उन्हें पेड़ों से प्यार (Women In Love With Trees) है और ये प्यार थोड़ा अलग किस्म का है. इसकी वजह से दोनों ने 2008 में पेड़ों से शादी (Women Married Trees) कर ली थी. अब इन दोनों ने अपने रिलेशन के बारे में लोगों के सामने खुलासा किया है.

एनी स्प्रिंकल और बेथ स्टीफंस को पृथ्वी से ही काफी प्यार है. इस प्यार की वजह से उन्होंने पेड़ों से शादी कर ली है. दोनों ने खुद को इकोसेक्सयुअल (EcoSexual) घोषित कर रखा है. 2008 में करीब तीन सौ लोगों के सामने दोनों ने पेड़ो से शादी की थी. शादी समारोह कैलिफोर्निया (California) के सांता क्रूज़ (Santa Cruez)में हुई थी. कई लोगों ने इस शादी की तस्वीरों को देखा. पहले तो लोगों को विश्वास नहीं हुआ कि आखिर कोई पेड़ों से शादी कैसे है? लेकिन बाद में इनके मकसद ने कई लोगों का दिल जीत लिया.

धरती की हैं प्रेमी
एनी स्प्रिंकल और बेथ स्टीफंस का कहना है कि पृथ्वी हमारी प्रेमी है. हम उसके लिए पागल हैं. अपने रिश्ते को और मजबूत बनाने के लिए उन्होंने पेड़ से शादी की थी. एनी स्प्रिंकल और बेथ स्टीफंस की मुलाक़ात 2003 में सैन फ्रांसिस्को के रुटगर्स यूनिवर्सिटी में हुई थी. इसके बाद दोनों ने आपस में पृथ्वी से प्यार की बात को शेयर की. दोनों को लगा कि वो इंसानों के ज्यादा पेड़ों की तरफ आकर्षित होती हैं. तब उन्हें अहसास हुआ कि वो लड़कों से नहीं पेड़ों से प्यार कर उनसे शादी करना चाहती है.

इस तरह करती हैं रोमांस
एनी स्प्रिंकल और बेथ स्टीफंस पेड़ों के साथ प्यार करती हैं. पृथ्वी से रोमांस करते दोनों चट्टानों के साथ प्यार जताती हैं. वो चट्टान को गले है. दोनों वाटरफॉल से प्यार करती हैं. उनका कहना है कि पृथ्वी से उन्हें अजीब सा सुकून मिलता है. वो पेड़ों को गले लगाकर उसकी जड़ों को पैरों रगड़ती है. इसके अलावा दोनों पेड़ों के साथ रोमांटिक बातें भी करती हैं. वैसे दोनों महिलाएं लेस्बियन है और एलजीबीटी कम्युनिटी के लिए काम करती हैं. उनका कहना है कि ये प्यार उसकी स्टोरी दुनिया में बाकी लोगों को पेड़ों की सुरक्षा करने को बढ़ावा देगी. उनका मानना है कि अगर आप किसी से प्यार करते हैं तो उसे नुकसान नहीं पहुंचाते. इससे पेड़ों को सुरक्षा मिलेगी.