पति से हुई लड़ाई तो बाजार से चीनी ले आई पत्नी, आधी रात सोए पति पर डाल दी खौलती चाशनी

पति-पत्नी के बीच अनबन की कई खबरें आपने देखी-सुनी होगी. छोटी मोटी नोकझोंक के आलावा कई बार बड़ी लड़ाइयां भी हो जाती है. अगर लाख कोशिशों के बाद भी स्थिति ठीक ना हो तो कपल कानून के सहारे तलाक लेकर रिश्ता खत्म कर सकता है. लेकिन कुछ लोग रिश्ते को खत्म करने की जगह क्राइम का सहारा लेते हैं. इसके बाद शुरू होती है अपराध की ऐसी कहानी, जो किसी के रोंगटे भी खड़े कर दे. ऐसा ही एक वाक्या पिछले साल अमेरिकासे सामने आया था. यहां एक महिला ने पति से लड़ाई के बाद उसके ऊपर चीनी से बनी खौलती चाशनी डाल उसकी जान ले ली .

अमेरिका के चेस्टर क्राउन कोर्ट ने अब इस मामले पर अपना फैसला सुनाया है. कोर्ट ने 59 साल की करीना स्मिथ कोकम से कम 12 साल जेल की सजा सुनाई है. उसपर अपने 81 साल के पति माइकल बाइनेस की हत्या का आरोप था. सबूतों के आधार पर करीना का जुर्म साबित हो गया. उसने अपने पति से झगड़ा होने पर उसे जलाकर मार दिया. इस हत्या के लिए करीना ने तीन किलो चीनी का इस्तेमाल किया था.

उढ़ेल दी थी चाशनी
हत्या का ये मामला 14 जुलाई 2020 को सामने आया था. आधी रात अचानक माइकल को अस्पताल लाया गया, जहां उसकी बॉडी 36 परसेंट जल गई थी. माइकल के ऊपर चिपचिपी चीज गिरी थी. डॉक्टर्स ने इमरजेंसी में उनका इलाज शुरू किया. तमाम कोशिशों के बाद भी उनकी जान नहीं बचाई जा सकी. चिपचिपी चीज के कारण माइकल की बॉडी की चमड़ी बुरी तरह झुलसी हुई थी. जांच में पता चला कि उसके ऊपर खौलती चाशनी डाल दी गई थी. ये काम किसी और ने नहीं, उनकी बीवी ने किया था.

रात को पकाई चाशनी
जब करीना को पति की हत्या के आरोप में अरेस्ट किया गया तो पहले वो मुकर गई. काफी सख्ती के बाद उसने अपना जुर्म स्वीकारा. करीना ने बताया कि वो माइकल से झगड़कर परेशान हो चुकी थी. घटना वाले दिन से एक सुबह पहले दोनों की जमकर बहस हुई थी. इसके बाद करीना मार्केट गई और तीन किलो चीनी खरीद लाई. उसने इस चीनी को पानी मिलाकर चाशनी बनाई. जब रात को माइकल सो रहा था तब उसने खौलती चाशनी को अपने पति पर डाल दिया. इससे माइकल के हाथ और सीने में फोड़े हो गए. थोड़ी देर उसे तड़पाने के बाद करीना ने अस्पताल में फोन किया और माइकल को एडमिट करवाया. अब करीना को कोर्ट ने कम से कम 12 साल जेल की सजा सुनाई है.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.