पति दिखाता था एडल्ट फिल्म, बेकाबू पत्नी ने कर डाला ऐसा हाल, हाथ जोडकर बोलाः माफ कर दो

मेरठ। मेरठ में एडल्ट फिल्म को लेकर नवदंपती के बीच आई दूरियों ने शादी के चंद ही दिन बाद दोनों को एक-दूसरे से अलग कर दिया। हालांकि परिवार परामर्श केंद्र ने नवदंपती का रिश्ता टूटने से बचा लिया। दरअसल, पत्नी का आरोप था कि पति जबरन एडल्ट फिल्म दिखाता है। विरोध करने पर मारपीट करता है। मामला परिवार परामर्श केंद्र तक पहुंचा। पति ने लिखित में दिया कि वह बेडरूम में मोबाइल लेकर नहीं जाएगा। पत्नी को एडल्ट फिल्म नहीं दिखाएगा। समझौते के बाद पत्नी ससुराल लौटी।

पुलिस लाइन में शुक्रवार को परिवार परामर्श केंद्र में चार दंपतियों के बीच पुलिस ने सुलह कराई। इनमें एक मामले में नवदंपती के बीच विवाद की जड़ एडल्ट फिल्म देखने का विवाद बना हुआ था। आरोप था कि पति जबरदस्ती पत्नी को भी अश्लील फिल्म देखने के लिए दबाव बनाता है और विरोध करने पर उसके साथ मारपीट करता है।

यह दंपती दौराला क्षेत्र के एक गांव के रहने वाला है। युवक नोएडा प्राइवेट कंपनी में नौकरी करता और उसकी शादी जुलाई 2020 में हुई थी। दंपति में विवाद बढ़ा तो विवाहिता ने इसकी शिकायत एसएसपी ऑफिस में कर दी, जहां से इस मामले को परिवार परामर्श केंद्र में ट्रांसफर कर दिया गया। सीओ रूपाली राय और परिवार परामर्श केंद्र प्रभारी मोनिका जिंदल ने सुना और फिर दोनों पक्षों को आमने-सामने बैठाया।

पुलिस के सामने पति ने अपनी गलती स्वीकार की और पत्नी की सारी बात मानते हुए समझौता कर लिया है। पत्नी ने कहा है कि बेडरूम में पति एडल्ट फिल्म नहीं देखेंगे। जिस पर पति ने कहा कि वह बेडरूम में कभी मोबाइल लेकर ही नहीं जाएगा। दोनों के बीच समझौता लिखा गया। जिसके बाद पुलिस ने दोनों को एक साथ भेज दिया। इसके बाद नवदंपती खुशी-खुशी एकसाथ लौट गए।